Tuesday , June 19 2018

बोध गया मंदिर धमाके, दो मुश्तबा अफ़राद के स्केच जारी

नई दिल्ली, 17 जुलाई: (पी टी आई) नैशनल इंवेस्टीगेशन एजेंसी (एन आई ए) ने बोध गया धमाकों की तहक़ीक़ात में पेशरफ्त और सुराग़ लगाने की कोशिशों के एक हिस्सा के तौर पर आज दो मुश्तबा अफ़राद के ख़ाके जारी किए जो महाबोधि मंदिर के अहाता में सिलसि

नई दिल्ली, 17 जुलाई: (पी टी आई) नैशनल इंवेस्टीगेशन एजेंसी (एन आई ए) ने बोध गया धमाकों की तहक़ीक़ात में पेशरफ्त और सुराग़ लगाने की कोशिशों के एक हिस्सा के तौर पर आज दो मुश्तबा अफ़राद के ख़ाके जारी किए जो महाबोधि मंदिर के अहाता में सिलसिलावार धमाकों से क़ब्ल मुश्तबा हालत में घूम रहे थे। एन आई ए के सीनीयर ओहदेदारों ने कहा कि इस शख़्स का पता चलाने की कोशिशें कामयाब नहीं हो सकी हैं।

चुनांचे इसका तस्वीरी ख़ाका जारी करना पड़ा है। एन आई ए ज़राए ने कहा कि एक मुश्तबा शख़्स की वाज़िह तस्वीर निकालने के लिए सी सी टी वी फुटेज को मज़ीद वाज़िह किया गया। बौद्वो के मुक़द्दस तरीन मुक़ाम और अहम तालीमी मर्कज़ पर 7 जुलाई को धमाका हुआ था। जिसकी तहक़ीक़ात में ताहाल कोई अहम कामयाबी नहीं मिली है। सुराग़ की तलाश में एन आई ए की टीमों को गुजरात के शहर राजकोट में वाकेए एक घड़ी साज़ फ़ैक्ट्री को रवाना किया गया है क्योंकि बमों में इस कंपनी की तैयार करदा घड़ीयों में ही टाइमर्स नसब किए गए थे।

तहक़ीक़ाती इदारों ने शुबा ज़ाहिर किया है कि इन धमाकों में कोई नया दहशतगर्द ग्रुप मुलव्वस हो सकता है क्योंकि माज़ी में मुल्क के मुख़्तलिफ़ हिस्सों में हुए धमाकों के लिए इस्तेमाल करदा बम एक दूसरे से मुख़्तलिफ़ हैं। दहशतगरदों का पता चलाने के लिए एन आई ए धमाको मवाद के इस्तेमाल और तरीकेकार का माज़ी के धमाकों के तरीका-ए-कार से तक़ाबुल कर रही है। एन आई ए ज़राए ने गया में सी सी टी वी फुटेज और ऐनी शाहिदीन के बयानात की बुनियाद पर दो मुश्तबा अफ़राद के ख़ाके ( स्केच) जारी किए हैं जिन में एक फ़र्द चेहरे पर नक़ाब पहना हुआ है दूसरा अपना चेहरा खुला रखा है। तीन ऐनी शाहिदीन में एक श्रीलंका और एक थाईलैंड का शहरी शामिल है जबकि तीसरा गवाह गया का साकिन है। उन्होंने कहा कि एक मुश्तबा शख़्स उस रात 3 बजकर 30 मिनट और 4 बजकर 30 मिनट के दरमियान बौद्व राहिब के लिबास में घूमता हुआ नज़र आया था और 5 बजकर 30 मिनट पर धमाके हुए थे। इस दौरान बोध गया मंदिर में सेक्युरिटी इंतेज़ामात में बड़े पैमाने पर कोताही के सबब वहां मुतय्यन ख़ानगी सेक्युरिटी कंपनी कोबरा अमला को हटा दिया गया।

TOPPOPULARRECENT