Tuesday , December 12 2017

बोस्टन धमाके के एक मुश्तबा मुल्ज़िम को मार गिराया गया

बोस्टन, 20 अप्रैल: अमेरिका में 9/11 हमले के 12 साल बाद बोस्टन मैराथन में धमाके करने वाले एक मुश्तबा मुल्ज़िम को मार गिराया गया है। पुलिस का कहना है कि सफेद टोपी वाले एक दूसरे मुश्तबा मुल्ज़िम की बोस्टन के इलाके वाटरटाउन में तलाश की जा रही

बोस्टन, 20 अप्रैल: अमेरिका में 9/11 हमले के 12 साल बाद बोस्टन मैराथन में धमाके करने वाले एक मुश्तबा मुल्ज़िम को मार गिराया गया है। पुलिस का कहना है कि सफेद टोपी वाले एक दूसरे मुश्तबा मुल्ज़िम की बोस्टन के इलाके वाटरटाउन में तलाश की जा रही है। ज़राए के मुताबिक दोनों भाई हैं और रूस के चेचन्या से अमेरिका आए। वे करीब एक साल से अमेरिका में रह रहे थे।

जुमे की सुबह मुकामी वक्त के मुताबिक करीब दस बजकर 20 मिनट पर मैसाच्युसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआइटी) के अहाते में एक पुलिस आफीसर को गोली मारकर कत्ल करने की खबर मिलने के बाद पुलिस उनकी तलाश में जुटी थी। इस वारदात के कुछ देर के बाद ही कैंब्रिज की थर्ड स्ट्रीट पर हथियारों से लैस दोनों मुश्तबा मुल्ज़िम एक शख्स से जबरन कार छीनने की इत्तेला मिली।

दोनों कार के मालिक को करीब आधे घंटे तक साथ में घुमाते रहे। फिर उसे मेमोरियल ड्राइव इलाके में वाकेय् गैस स्टेशन के पास छोड़ दिया। दोनों ने इसी दौरान धमाका खेज मवाद भी कार से बाहर फेंक दी। कुछ ही देर बाद डेकस्टर और लॉरेल इलाके में पुलिस और मुश्तबा मुल्ज़िम के बीच गोलीबारी हुई। दोनों ओर से हो रही गोलीबारी में एक मुश्तबा मुल्ज़िम और एक पुलिस अहलकार जख्मी हो गए। दोनों को तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां मुश्तबा मुल्ज़िम को मुर्दा ऐला कर दिया गया।

मैसाच्युसेट्स के पुलिस चीफ टिमोंटी अलबेन ने बताया कि वाटरटाउन में पुलिस के साथ मुठभेड़ में एक मुश्तबा मुल्ज़िम की मौत हो गई। जबकि दूसरा भागने में कामयाब रहा। माना जा रहा है कि इन दोनों ने ही पीर के दिन बोस्टन मैराथन में दोहरे ब्लास्ट को अंजाम दिया था।

दूसरे संदिग्ध का नाम 19 वर्षीय जोखर ए. सारनाएव बताया गया है। वह कैंब्रिज, मैसाच्युसेट्स में रहता था। सीसीटीवी फुटेज में उसे सफेद बेसबॉल टोपी पहने हुए देखा गया है।

जांच एजेंसी [एफबीआइ] ने जुमेरात को दो मुश्तबा मुल्ज़िम के तस्वीर और वीडियो जारी किए थे। इसमें बोस्टन मैराथन में धमाके से पहले पीठ पर थैला लिए हुए शख्स की पहचान के लिए लोगों से मदद मांगी गई थी।

बताया जा रहा है कि फरार मुश्तबा मुल्ज़िम सारनाएव अमेरिका में कानूनी तारकीन ए वतन है। दोनों भाई एक साल पहले चेचन्या से अमेरिका आया था। एनबीसी के मुताबिक मुम्किन है कि सारनाएव ने फौजी तरबियत लिए हो। वह कुश्ती चैंपियन है। बड़ा भाई 20 साल का था और उसने बंकरहिल कम्यूनिटी कॉलेज में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा था। मुक्केबाजी की ट्रेनिंग लेने के लिए उसने एक साल की छुट्टी ली थी।

TOPPOPULARRECENT