Wednesday , December 13 2017

बोस्टन हमला ग़लती से लापता हिंदूस्तानी तालिब-ए-इल्म पर शुबा !

वाशिंगटन, 20 अप्रैल ( पी टी आई ) हिंदूस्तानी अमेरीकी तालिब-ए-इल्म सुनील त्रिपाठी को सोश्यल मीडिया वेब साईट्स पर ग़लती से बोस्टन मैराथन में हुए दहशतगर्दाना हमला का एक मुश्तबा मुल्ज़िम क़रार दे दिया गया था । ये तालिब-ए-इल्म वस्त मार्च से

वाशिंगटन, 20 अप्रैल ( पी टी आई ) हिंदूस्तानी अमेरीकी तालिब-ए-इल्म सुनील त्रिपाठी को सोश्यल मीडिया वेब साईट्स पर ग़लती से बोस्टन मैराथन में हुए दहशतगर्दाना हमला का एक मुश्तबा मुल्ज़िम क़रार दे दिया गया था । ये तालिब-ए-इल्म वस्त मार्च से लापता है ।

सोश्यल मीडिया और असल मीडिया के एक हिस्से में ये अफवाहें चल रही थीं कि 22 साला त्रिपाठी जो 16 मार्च को लापता हो गया था और अभी तक इस का कोई पता नहीं चल सका है वो बोस्टन बम धमाकों का मुश्तबा मुल्ज़िम है जिस में तीन अफ़राद हलाक और तक़रीबन दो सौ ज़ख़्मी हो गए थे ।

ये अफवाहें कल शाम शुरू हुई थीं जब एफ बी आई की जानिब से दो मुश्तबा अफ़राद की तसावीर और वीडियो जारी किए थे । इस के फ़ौरी बाद सोश्यल मीडिया पर कहा जाने लगा कि इन वीडियोज़ में दिखाए गए दो में से एक नौजवान यूनीवर्सिटी का तालिब-ए-इल्म सुनील त्रिपाठी है ।

त्रिपाठी के अफ़राद ख़ानदान इन अफ़्वाहों पर परेशान हो उठे थे ताहम ये मसला उस वक़्त हल हुआ जब बोस्टन पुलिस ने दो मुश्तबा अफ़राद की शनाख़्त ज़ाहिर की और बताया कि ये दो चेचन्याई नज़ाद भाई हैं । त्रिपाठी ख़ानदान ने इस मुआमला को इंतिहाई तकलीफ़देह क़रार दिया है ।

TOPPOPULARRECENT