Monday , December 11 2017

ब्यूटी पार्लर में चल रहा था जिस्मफरोशी का धंधा

एसकेपुरी थाना इलाक़े मे बोरिंग रोड चौराहे के वर्मा सेंटर में ब्यूटी पार्लर की आड़ में चल रहे जिस्मफरोशी के धंधे का पुलिस ने खुलासा किया है। इतवार की रात हुई छापेमारी में कामिनी ब्यूटी पार्लर से एक लड़की और दो अफराद को गैर फआल हालत म

एसकेपुरी थाना इलाक़े मे बोरिंग रोड चौराहे के वर्मा सेंटर में ब्यूटी पार्लर की आड़ में चल रहे जिस्मफरोशी के धंधे का पुलिस ने खुलासा किया है। इतवार की रात हुई छापेमारी में कामिनी ब्यूटी पार्लर से एक लड़की और दो अफराद को गैर फआल हालत में पकड़ा गया। उनकी शिनाख्त कंकड़बाग थाना इलाक़े के चांदमारी रोड गली नंबर चार रहने वाले पवन कुमार उर्फ छोटू, मोहम्मद आजम और सलमा के तौर में हुई। इस दौरान सरगना गुड्डू फरार हो गया। पुलिस ने पार्लर से बहुत से सामान के साथ कंडोम, ताकतवर दवाएं और ईल मैगजीन भी बरामद कीं।

मर्दानगी की आवाजाही से शक

कामिनी ब्यूटी पार्लर में हर दिन सुबह से देर शाम तक ख़वातीन की भीड़ लगी रहती थी। लोग इसे शादी-विवाह के दौरान होनेवाली भीड़ समझ रहे थे। लेकिन, गुजिशता एक माह से पार्लर में मुसलसल ख़वातीन के साथ मर्दों की भी आवाजाही हो रही थी। मुक़ामी लोगों ने इसकी इत्तिला पुलिस को दी। इत्तिला पाकर इतवार की रात पुलिस ने पार्लर में छापेमारी की। इस दौरान पुलिस ने आपत्तिजनक हालत में मो आजम और सलमा को गिरफ्तार किया। छापेमारी के दौरान पवन कुमार ने भागने की कोशिश की, जिसे पुलिस के जवानों ने दौड़ कर पकड़ लिया।

अंदर की गजब की सजावट

पुलिस अंदर दाखिल हुई, तो दंग रह गयी। बाहर से कबाड़ दिखनेवाले पार्लर की अंदर से खूबसूरती देखते ही बन रही थी। काफी करीने से बेड लगे थे। खाने-पीने की शानदार निज़ाम थी। सरगना ने पुलिस से बचने के लिए वर्मा सेंटर में पार्लर के साथ बुटिक की भी दुकान खोल रखी थी। इसके वजह से पुलिस पहले भी कई बार धोखा खा चुकी थी।

4500 रुपये फी माह था पार्लर का किराया

पार्लर को सलमा और उसकी दोस्त नेहा ने दो साल पहले 4500 रुपये फी माह किराये पर लिया था। मुक़ामी लोगों के मुताबिक डेढ़ साल पहले से उस पार्लर को जिस्मफरोशी के तौर में इस्तेमाल किया जाने लगा था। इतना ही नहीं, ब्यूटी पार्लर में चल रहे सेक्स रैकेट के लिए दो सौ रुपये फी घंटे के हिसाब से बेड चार्ज लिया जाता था। वहीं, लड़कियां फरहम कराने का अलग से चार्ज था।

गिरफ्तार लोगों पर जरूरी कानूनी कार्रवाई कर उन्हें जेल भेज दिया गया है। सरगना की तलाश की जा रही है। साथ ही गिरफ्तार लड़की और और लड़के से पूछताछ कर दीगर मेंबरों के बारे में जानकारी हासिल की जा रही है।
ईश्वरचंद्र विद्यासागर, थाना इंचार्ज

TOPPOPULARRECENT