ब्रिटिश- बांग्लादेशी डॉक्टर फरजाना हुसैन की पूरे देश ने की सराहना

ब्रिटिश- बांग्लादेशी डॉक्टर फरजाना हुसैन की पूरे देश ने की सराहना

नई दिल्ली. ढाका में ब्रिटिश उच्चायोग ने यूनाइटेड किंगडम की स्वास्थ्य प्रणाली की गुणवत्ता में सुधार के प्रयासों के लिए डॉ फरज़ाना हुसैन की प्रशंसा करते हुए अपने   वेरीफाई फेसबुक पेज पर एक पोस्ट प्रकाशित किया।

जिसपर लिखा है डॉ फरज़ाना हुसैन का सम्मान करें, जो एक ब्रिटिश-बांग्लादेशी  डॉक्टर है और NHS स्टाफ में से एक है। जिन्होंने सीओवीआईडी -19 के दौरान फ्रंट स्टाफ द्वारा निभाई गई महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वालों में से एक है ।

डॉ. फरजाना लन्दन के डॉक्टरों में पहली पंक्ति में गिनीं जाने वाली डॉक्टर हैं. कोरोना काल में डॉ. फरजाना ने रात और दिन के फर्क को भुला दिया और रात दिन कोरोना के मरीजों के इलाज में लगी रहीं । जिसको लेकर उनकी दुनिया भर में तारीफ़ हो रही है।

वर्ष 1995 में एमबीबीएस करने वाली डॉ. फरजाना लन्दन में बहुत काबिल डॉक्टरों में गिनी जाती हैं. मेडिकल स्टूडेंट्स के लिए वह अच्छी शिक्षक भी हैं. यूनीवर्सिटी ऑफ़ लन्दन के तहत आने वाले मेडिकल कालेजों में वह लगातार विजिट करती रहती हैं और मेडिकल स्टूडेंट्स का मार्गदर्शन करती हैं. मेडिकल फाइनल इयर स्टूडेंट्स को डॉ. फरजाना के पास प्रैक्टिकल ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है.

Top Stories