Monday , December 18 2017

बढ़ती हिंसा एवं असहिष्णुता के खिलाफ रनवे शो से उठी आवाज

नई दिल्लीः बहु-प्रतीक्षित फैशन ईवेंट- इंडिया रनवे वीक विंटर-फैस्टिव 2017 के जगमगाते शो में आज यहां डीएलएफ प्लेस साकेत मॉल में डांस इंडिया डांस की जज और प्रसिद्ध बॉलीवुड कोरियोग्राफर गीता कपूर, जो गीता मां के नाम से भी लोकप्रिय हैं, ने देश में बढ़ती हिंसा और असहिष्णुता के विरोध में आवाज उठाते हुए, कथक सम्राट पंडित बिरजू महाराज के एक शास्त्रीय गीत पर रैम्प वाक किया। शुभाषिनी ऑनाॅमेंटल्स रंगयात्रा नामक यह ईवेंट देश के जाने-माने ज्वेलरी डिजाइनर आकाश के. अग्रवाल ने प्रस्तुत की थी।

अपने चर्चित संग्रह के बारे में बताते हुए, आकाश अग्रवाल ने कहा, यह सीजन हस्तनिर्मित गहनों के एक नये जीवंत सेट के नाम है, जो भारत की अद्भुत कला, संस्कृति, संगीत, साहित्य और यहां तक कि वास्तुकला की भव्यता का प्रतीक है। हमारे कलेक्शन में आपको प्राचीन भारत की डोकरा, कोफ्तगरी, बिद्री, मीनाकारी और पेरुमा और जड़ाऊ तकनीक का मिश्रण देखने को मिलेगा। सोने व चांदी में पन्ना, रूबी, नीलमणि और नाजुक मोतियों को जड़ कर तैयार यह ज्वैलरी आपका मन मोह लेगी।

यह जगमगाता शो समाज में व्याप्त हिंसा को समाप्त करने के सामाजिक संदेश पर केंद्रित था। प्रसिद्ध बॉलीवुड कोरियोग्राफर गीता कपूर ने कहा, आकाश के आभूषणों की अपनी ही छटा है और मैं अक्सर इनके डिजायन किये हुए आभूषणों को पहनती हूं। आशा है कि हमारे इस छोटे से प्रयास से देश में शांति व सद्भावना का संदेश प्रसारित होगा और भारत दृढ़ता के साथ प्रगति व खुशहाली के साथ आगे बढ़ेगा।

आकाश अग्रवाल के शुभाषिनी आॅर्नामेंटल्स के बारे में: 

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ जेम्स एंड ज्वेलरी, जेमोलॉजिकल इंस्टीट्यूट ऑफ अमेरिका तथा फॉरेन ट्रेड डेवलपमेंट सेंटर से आभूषण डिजायन कला में प्रशिक्षित ज्वैलरी एक्सपर्ट आकाश अग्रवाल के लेबल न सात वर्षों की लघु अवधि में अपनी पहचान कायम कर ली है। उनके संग्रह में व्यावसायिकता से परे भी काफी कुछ देखने को मिलता है। उनकी व्यक्तिगत राय है कि समाज से उन्हें जो भी प्राप्त हुआ है उसे समाज को वापस लौटाना उनकी जिम्मेदारी है।

TOPPOPULARRECENT