Friday , November 24 2017
Home / Entertainment / भंसाली पर हमला : फिल्म बिरादरी हेल्पलेस, निर्देशक विक्रम भट्ट ने कहा, मेरा तो खून खौल रहा है

भंसाली पर हमला : फिल्म बिरादरी हेल्पलेस, निर्देशक विक्रम भट्ट ने कहा, मेरा तो खून खौल रहा है

मुंबई : बॉलिवुड के जानेमाने निर्देशक संजय लीला भंसाली इन दिनों रणवीर सिंह, दीपिका पादुकोण और शाहिद को लेकर अपनी अगली फिल्म ‘पद्मावती’ की शूटिंग कर रहे हैं। पिछले दो दिन से वह जयपुर के कई ऐतिहासिक जगहों में फिल्म की शूटिंग में व्यस्त हैं। इसी शूटिंग के दौरान जयपुर के जयगढ़ किले में उन पर राजपूत समुदाय से ताल्लुक रखने वाले समूह करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने हमला किया और सेट पर भी जमकर तोड-फोड़ किया है। इस हमले की फिल्म जगत ने कड़ी आलोचना करते हुए इसे ‘भयावह’, ‘मूर्खतापूर्ण’ और ‘लोकतंत्र का मजाक’ कहा है। इस घटना को लेकर निर्देशक विक्रम भट्ट ने कहा है की इस समय फिल्म बिरादरी हेल्पलेस है।

गुस्से में तमतमाते विक्रम भट्ट ने कहा, ‘संजय लीला भंसाली और ‘पद्मावती’ के सेट पर हुए हमले की इस खबर को सुन कर मेरा तो खून खौल रहा है लेकिन सच बात तो यह है कि हम फिल्म मेकर और फिल्म से जुड़े सभी तरह के कलाकार शीशे के घर में रहते हैं। हम सभी हमेशा इस डर में जीते हैं कि कोई कभी भी आकर हमें पत्थर से मार जाएगा। हमारे लिए कोई प्रोटेक्शन नहीं है। मैं नहीं जानता जिन लोगों ने हमला किया वह कौन हैं लेकिन जब एक बड़ा झुंड आकर हमला करता है तो आप उन्हें पकड़ भी नहीं पाते हैं। आप एक झुंड के हमले में सात-आठ लोगों को पकड़ सकते हैं लेकिन बाद में छोड़ भी देते हैं। इस समय तो मुझे समझ नहीं आ रहा कि इस तरह की समस्या का सही उपाय क्या है। पूरी फिल्म बिरादरी आज संजय लीला भंसाली के साथ खड़ी है लेकिन क्या करें? किसके पास जाए? कुछ समझ में नहीं आ रहा। हम लोग हेल्पलेस हो गए हैं।’

राजपूत समूह करणी सेना ने आरोप लगाया है कि भंसाली अपनी फिल्म ‘पद्मावती’ में राजपूत रानी पद्मावती के इतिहास को तोड़-मरोड़ कर पेश कर रहे हैं। भंसाली की फिल्म में रानी पद्मावती का किरदार निभा रहीं दीपिका पादुकोण और अलाउद्दीन खिलजी का किरदार निभा रहे रणवीर सिंह के बीच आपत्तिजनक ‘लव सीन्स’ फिल्माए जा रहे थे। करणी सेना का कहना है कि इस ‘लव सीन्स’ की बात खुद रणवीर सिंह ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था, जिसे सुनने के बाद वह हरकत में आए हैं। रानी पद्मावती को उनकी वीरता के लिए जाना जाता है जिन्होंने अपनी इज्जत की खातिर ‘जौहर’ ( इज्जत बचाने के लिए राजपूत महिलाओं द्वारा किया जाने वाला आत्मदाह) कर लिया था जब अलाउद्दीन खिलजी ने चित्तौड़गढ़ किले पर हमला किया था। इसके साथ ही, करणी सेना की यह भी मांग है कि भंसाली अपनी फिल्म से राजपूत रानी के बारे में सभी सीन्स को हटा लें।

TOPPOPULARRECENT