भगवा तत्वों के लिए कानून-व्यवस्था का कोई मतलब नहीं : मायावती

भगवा तत्वों के लिए कानून-व्यवस्था का कोई मतलब नहीं : मायावती
Click for full image

बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने यहां मंगलवार को पार्टी मुख्यालय पर राजस्थान प्रदेश के वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। बैठक में मायावती ने कहा कि भगवा तत्वों के लिए कानून-व्यवस्था का कोई मतलब नहीं रह गया है और वे लोगों की हत्या तक कर देते हैं।

 

 

 

 

अब समय आ गया है कि गौरक्षा, बूचड़खाना, लव जेहाद, श्मसान-कब्रिस्तान व तीन तलाक आदि के संकीर्ण व विभाजनकारी मुद्दों पर से ध्यान हटाकर देशहित व देश की कानून-व्यवस्था एवं सीमा की सही चिंता की जाए, ताकि मनुष्यों की जान जानवरों से भी सस्ती न हो जाए।

 

 

 

 

उन्होंने कहा कि भाजपा शासित राज्य राजस्थान में भी खासकर गरीबों, मजदूरों, दलितों, पिछड़ों व धार्मिक अल्पसंख्यकों को अन्याय, जुल्म-ज्यादती व शोषण का शिकार बनाया जा रहा है और इस मामले में चिंता की बात यह है कि संविधान व कानून का खुला उल्लंघन करते हुए यह सब कुछ सरकारी संरक्षण में ही हो रहा है

 

 

 

 

 

। मायावती ने कहा कि गौरक्षा, दलित उत्पीड़न व शोषण एवं कट्टरवादी भगवाकरण के मामले में कौन कितना ज्यादा कानून से खिलवाड़ करने की छूट दे सकता है, यह होड़ लगी हुई है। यह काफी घातक प्रवृत्ति है।

Top Stories