Sunday , December 17 2017

भटकल का साथी मोनू गिरफ्तार !

मोनू पर वज़ारत दाख्ला ने 10 लाख रुपये इनाम का ऐलान किया है। यासीन भटकल का करीबी मोनू पर बोधगया धमाके में शामिल होने का भी शक है। यही नहीं खुफिया एजेंसियों का मानना है कि चित्रास्वामी स्टेडियम के बाहर हुए धमाके भी मोनू ने ही किए थे। उ

मोनू पर वज़ारत दाख्ला ने 10 लाख रुपये इनाम का ऐलान किया है। यासीन भटकल का करीबी मोनू पर बोधगया धमाके में शामिल होने का भी शक है। यही नहीं खुफिया एजेंसियों का मानना है कि चित्रास्वामी स्टेडियम के बाहर हुए धमाके भी मोनू ने ही किए थे। उसकी तलाशी में दो दिन पहले एनआइए की टीम ने समस्तीपुर के मनियार गांव में छापेमारी की थी।

लेकिन मोनू एनआइए के हत्थे नहीं चढ पाया। एनआइए की टीम ने उसके वालिद को हिरासत में ले लिया। इससे पहले भी एनआइए की टीम ने मोनू की तलाश में समस्तीपुर के मुखतलिफ़ शहरों में छापेमारी की थी, लेकिन कामयाबी नहीं मिल पायी थी। पूछताछ में भटकल ने बताया है कि तसहीन ने दहशतगर्द की तरबियत पाकिस्तान में ली है। उसे हिंदुस्तान में वीआइपी पर हमले करने के लिए भेजा गया है। दहशतगर्द मोनू की हिटलिस्ट में गुजरात के वज़ीरे आला नरेंद्र मोदी के होने की बात सामने आयी है।

ज़राये का कहना है कि इस बारे में गुजरात पुलिस को जानकारी दे दी गयी है। मोनू की तलाश में एजेंसिया दीगर ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। ताहम भटकल ने उसके ठिकाने के बारे में कोई जानकारी होने से इनकार किया है।
यासीन भटकल की गिरफ्तारी के महज कुछ दिनों बाद ही क़ौमी जांच एजेंसी की तरफ से उसके साथी इंडियन मुजाहिदीन के अहम मेम्बर मोनू को गिरफ्तार कर लिए जाने की बहस है। तहसीम अख्तर उर्फ मोनू 10 लाख रुपये का इनामी दहशतगर्द है। ताहम कोई भी एजेंसी ने उसकी गिरफ्तारी की तसदीक़ नहीं की है। देर शाम यह चर्चा थी कि मोनू को गिरफ्तार कर लिया गया है। हालांकि उसकी गिरफ्तारी कहां हुई है इस पर शक बरकरार है।

TOPPOPULARRECENT