Monday , December 11 2017

भड़काऊ तक़रीर देने वाले गिरिराज को जमानत, प्रभुनाथ को भी राहत

भाजपा के साबिक़ वज़ीर गिरिराज सिंह को सिविल कोर्ट से जमानत मिल गई है। सेशन जज वीरेंद्र कुमार ने सुनवाई के बाद उनकी अर्जी मंजूर करते हुए पेशगी जमानत दे दी। गिरिराज के वकील जनार्दन राय ने अदालत में दलील दी कि जिस बुनियाद पर उनके खिलाफ

भाजपा के साबिक़ वज़ीर गिरिराज सिंह को सिविल कोर्ट से जमानत मिल गई है। सेशन जज वीरेंद्र कुमार ने सुनवाई के बाद उनकी अर्जी मंजूर करते हुए पेशगी जमानत दे दी। गिरिराज के वकील जनार्दन राय ने अदालत में दलील दी कि जिस बुनियाद पर उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया है, वह मामला बनता ही नहीं है। पटना में जमानत मिलने के बाद गिरिराज ने इसी बुनियाद पर बोकारो अदालत में भी पेशगी जमानत की अर्जी दायर की है। इस पर सुनवाई सनीचर को होगी।

जमानत मिलने के बाद गिरिराज सिंह ने कहा है कि उन्होंने किसी मजहब पर तनकीद नहीं की है। मैंने कहा था कि जो नरेंद्र मोदी का हिमायत नहीं करते, उन्हें पाकिस्तान चले जाना चाहिए। इसमें किसी मजहब पर कहां आक्षेप किया गया है? अदालत ने भी इस तर्क का सही माना है। मैंने अदालत को बताया कि एलेक्शन कमीशन की तरफ से जारी नोटिस और एफआईआर के दलील में फर्क है। मैंने जिला इंतेजामिया को फैक्स और ई-मेल से नोटिस जवाब भेजा था। इसके सुबूत भी पेश किए। इसे अदालत ने सही ठहराया।

इधर, एनडीए में इख्तिलाफ़ : रालोसपा के क़ौमी सदर उपेंद्र कुशवाहा ने कहा- मेरा सुझाव है कि गिरिराज को अदालत का सम्मान करते हुए सरेंडर कर देना चाहिए। जो भी कहना हो वे कोर्ट में कहें। जबकि भाजपा रियासत सदर मंगल पांडेय ने कहा कि कानून में पेशगी जमानत की तजवीज है तो उससे राहत ली जानी चाहिए। यह गलत नहीं है।

प्रभुनाथ की गिरफ्तारी पर 19 मई तक रोक

राजद्रोह और आचार संहिता के इख्तिलाफ़ के मामले में महाराजगंज एमपी प्रभुनाथ सिंह को राहत मिल गई है। जिला जज ने जुमा को उनकी पेशगी जमानत पर सुनवाई की। दोनों फरीकों की दलीलें सुनने के बाद जिला जज नवनीत कुमार पांडेय ने गिरफ्तारी पर 19 मई तक रोक लगा दी। अगली सुनवाई 29 मई को होगी। अदालत ने डीएम शरीक जिला एलेक्शन कमीशन ओहदेदार को हिदायत दिया कि प्रभुनाथ के बारे में हर तीन दिन में अदालत को इत्तिला करें। साथ ही एलेक्शन कमीशन में सिंह की शिकायत और जिला ओहदेदार की तरफ से दिए गए जवाब के बाद कमीशन की तरफ से की गई कार्रवाई की रिपोर्ट देने का भी हुक्म दिया।

TOPPOPULARRECENT