Friday , December 15 2017

भयंकर जंग के मुहाने पर हैं इस्राइल और हिजबुल्ला, संयुक्त राष्ट्र ने दी चेतावनी

संयुक्त राष्ट्र: संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने एक नई रिपोर्ट में चेतावनी दी कि हिज्बुल्ला के हाथों में अवैध हथियार आने और लेबनान के आतंकवादी समूह एवं इस्राइली अधिकारियों की धमकी भरी बयानबाजी से संघर्ष बढ़ने का खतरा है। संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने हिज्बुल्ला एवं इस्राइल से अपील की कि वे ‘हरसंभव संयम बरतें’ और ‘संभावित भड़काऊ टिप्पणियों से बचें’। आपको बता दें कि साल 2006 में हिज्बुल्ला एवं इस्राइल के बीच जंग हो चुकी है।

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा शनिवार को जारी रिपोर्ट में गुतारेस ने कहा कि हिज्बुल्ला को हथियारों की आपूर्ति के आरोप लगातार लग रहे हैं और ऐसा नियमित अंतराल पर हो रहा है। उन्होंने कहा, ‘संयुक्त राष्ट्र इन आरोपों को गंभीरता से ले रहा है हालांकि वह अकेले इन आरोपों की पुष्टि कर पाने की स्थिति में नहीं हैं।’ गुतारेस ने उल्लेख किया कि हिज्बुल्ला ने हथियारों का इस्तेमाल करके दिखाया है और इस बात की पुष्टि भी की है कि वह इनका इस्तेमाल कर रहा है।

संयुक्त राष्ट्र ने 2006 में संघर्ष की समाप्ति की घोषणा करने वाले एक प्रस्ताव में हिज्बुल्ला और लेबनान में सक्रिय अन्य विद्रोही गुटों को नि:शस्त्र करने का आह्वान किया था। इसके अलावा संयुक्त राष्ट्र शांतिसेना को इस्राइल सीमा के निकट स्थित लितानी नदी के दक्षिणी हिस्से की निगरानी करने को कहा था जहां हिज्बुल्लाह पर हथियार रखने पर पाबंदी लगाई गई है ।

उन्होंने कहा कि इस्राइल ने क्षेत्र में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा बलों की निगरानी वाले 3 विशिष्ट स्थानों पर हथियारों एवं बुनियादी सुविधा से लैस हिज्बुल्ला की कथित मौजूदगी की सूचना शांतिसेना को दी थी। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा बल इन जगहों की निगरानी टोही विमानों, उपग्रह चित्रों एवं गश्त के माध्यम से करते हैं। उन्होंने कहा, ‘हालांकि इन आरोपों को साबित करने के लिये अभी पर्याप्त साक्ष्य नहीं हैं।’

TOPPOPULARRECENT