Monday , December 18 2017

भाकपा के साथ जदयू के इत्तिहाद पर मंजूरी

भाकपा के साथ जदयू के इत्तिहाद पर मंजूरी हो गई है। माकपा के साथ भी बात चल रही है। जदयू रियासती सदर वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि सीटों के लेकर जल्द ही ऐलान होगी। सियासी गलियारे में यह खबर है कि भाकपा ने जदयू से बेगूसराय व जहानाबाद सीट

भाकपा के साथ जदयू के इत्तिहाद पर मंजूरी हो गई है। माकपा के साथ भी बात चल रही है। जदयू रियासती सदर वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि सीटों के लेकर जल्द ही ऐलान होगी। सियासी गलियारे में यह खबर है कि भाकपा ने जदयू से बेगूसराय व जहानाबाद सीट की मांग की है। दोनों सीट जदयू की सीटिंग सीट है। बेगूसराय से डॉ. मोनाजिर हसन जदयू एमपी हैं।

अगर बेगूसराय सीट भाकपा को गई तो डॉ. मोनाजिर हसन के लिए जदयू को कोई और सीट तलाशनी होगी। इस बात की बहस है कि जदयू उन्हें भागलपुर से इंतिख़ाब लड़ा सकता है। वहीं जहानाबाद सीट से जदयू उम्मीदवार के तौर पर जगदीश शर्मा ने इंतिख़ाब जीता था। चारा घोटाले से जुड़े मामले में सजायाफ्ता होने के बाद वह सीट खाली हो गई है। जहानाबाद में अपनी सरगर्मी को जेहन में रख भाकपा ने जदयू से यह सीट मांगी है।

वैसे बहस है मगरीबी चंपारण सीट को लेकर भी है। यह सीट अभी भाजपा के खाते में है। वहीं माकपा के बारे में बहस है कि वह मूआहिदे के तहत उजियारपुर सीट की मांग कर रही है। इस सीट से जदयू की अश्वमेघ देवी एमपी हैं। जातीय फॉर्मूला के लिहाज से माकपा अपने एक पुराने लीडर के लिए यह सीट चाहती है।

TOPPOPULARRECENT