भागलपुर दंगा: बीजेपी से गठबंधन के बाद क्या नीतीश कुमार का सरकार पर कन्ट्रोल खत्म हो चुका है?

भागलपुर दंगा: बीजेपी से गठबंधन के बाद क्या नीतीश कुमार का सरकार पर कन्ट्रोल खत्म हो चुका है?
Click for full image

बिहार के भागलपुर में एक जुलूस को लेकर दो समुदायों के बीच हुई हिंसक झड़प के मामले में आरोपी बनाए गए केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे अरिजीत शाश्वत ने सोमवार को मीडिया से बात करते हुए पुलिस के सामने सरेंडर करने से इनकार किया है।

हिंसक झड़प के उक्त मामले में अरिजीत शाश्वत के खिलाफ वॉरंट जारी किया गया था जिसके बाद विपक्षी नेता उन पर सरेंडर करने का दबाव बना रहे थे। वहीं इस पर आरजेडी के नेता और पूर्व उप मुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव ने नीतीश कुमार सरकार पर हमला बोला है।

तेजस्‍वी यादव ने कहा कि मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को जवाब देना होगा कि कोर्ट की तरफ से गिरफ्तारी का वॉरंट जारी होने के बाद भी क्यों अरिजित शाश्वत खुले घूम रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि नीतीश का सरकार पर कंट्रोल नहीं है और सरकार नागपुर से चल रही है।

यह दिखाता है कि वह कितने कमजोर हो चुके हैं। इससे पहले अरिजित शाश्वत ने कहा था कि मैं न्‍यायालय की शरण में हूं। भागते वो है, खोजना उनको पड़ता है जो कहीं गायब हो गए हो। मैं समाज के बीच में हूं।

अरिजित शाश्वत ने कहा कि पुलिस मुझे गिरफ्तार करने के लिए आती है तो मैं वहीं करूंगा जो वो कहेंगे। मैंने अग्रिम जमानत याचिका दाखिल कर रखी है।

अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट( एसीजेएम) अंजनी कुमार श्रीवास्तव ने नाथनगर पुलिस की ओर से दायर अर्जी पर वॉरंट जारी किया। पुलिस ने इस सिलसिले में दर्ज दो प्राथमिकियों में से एक में नामित नौ लोगों की गिरफ्तारी की मांग की थी।

सभी आरोप झूठे- अश्विनी चौबे

वहीँ केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ने अपने बेटे के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट को गलत बता रहे हैं। उनका कहना है कि उनका बेटा बिल्कुल सही है और उसने कोई गलत काम नहीं किया है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उनके बेटे की कोई गलती नहीं है और उनके अनुसार ये पुलिस एफआईआर भी झूठी है।

उनका कहना है कि जब उनके बेटे ने कोई गलत काम किया ही नहीं है तो वह सरेंडर क्यों करेगा। मंत्री ने आगे कहा कि उनका बेटा कहीं छुपा हुआ नहीं है और जब वो गलत नहीं है तो वह सरेंडर क्यों करेगा। उनके अनुसार उनका बेटा 25 तारीख को राम नवमी के अवसर पर अपने गांव भी आया था और उसने आरती भी की थी।

इससे पहले पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने एक ट्वीट में लिखा है- नीतीश सरकार सुनिए, केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे अरिजित चौबे एक केस में फरार है। नीतीश सरकार ने उनके खिलाफ भागलपुर में दंगा फैलाने का वारंट जारी किया है पर वह तो राम नवमी के अवसर पर तलवार थामे बीजेपी विधायकों के साथ जुलूस निकाल रहा है।

एक अन्य ट्वीट में तेजस्वी ने लिखा है कि बिहार के ढोंगी व पाखण्डी मुख्यमंत्री ने केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के दंगाई पुत्र पर दिखावटी वारंट निकाल रखा है। लेकिन वह पटना में सीएम आवास के बगल में ही बीजेपी विधायकों की मौजूदगी में तलवार थामे फेसबुक लाइव कर रहा था।

Top Stories