Wednesday , July 18 2018

भागवत के बयान पर सफाई, संघ सरबराह रिज़र्वेशन निजाम के हक़ में

पटना : आरएसएस के जुनूबी-मशरिक़ इलाक़े के कार्यवाह डाॅ मोहन सिंह ने इतवार को बयान जारी कर कहा कि डॉ मोहन भागवत ने रिज़र्वेशन के मुतल्लिक़ में जो ख्याल दिया था, उसे तोड़–मरोड़ कर पेश किया जा रहा है। रिज़र्वेशन के मुतल्लिक़ में संघ के खयाल के बारे में उलझन की हालत पैदा की जा रही है। संघ इस क़िस्म की कार्रवाई की मज़मत करता है।

संघ का मानना है कि सामाजिक इंसाफ और हम आहानगी के लिए रिज़र्वेशन की कानूनी निजाम को जरूरी तौर में जारी रहना चाहिए। संघ कानून निजाम रिज़र्वेशन के लिए पाबंद अहद है।

रिज़र्वेशन की सहूलत एसटी एससी इंतेहाई पसमानदा अौर दीगर पसमानदा तबकों को मिले और कानून बनाने वालों का मक़सद कामयाब हों, ऐसा संघ का मानना है। रिज़र्वेशन निजाम का सियासत बाजी न किया जाये।

TOPPOPULARRECENT