Monday , December 18 2017

भाजपा आरएसएस के दलित विरोध मनवोदी रिवाज के सिद्धांत पर चल रही है

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भारत में दलितों के खिलाफ होने वाली ज़ुल्म व ज़्यादती पर ” सिर शर्म से झुक जाने ” के बयान की आलोचना करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने आज कहा कि भाजपा दरअसल आरएसएस के ‘दलित विरोधी’ मनवोदी परंपरा में य‌कीन रखने वाले आरएसएस की विचारधारा का पालन करती है|

मोदी के इस बयान पर कि उन्होंने राज्य सरकारों से अनुरोध किया था कि दलितों को प्रोत्साहित करने के लिए उन्हें तैयार की उपकरणों पर 4 प्रतिशत वसूली जाए। केंद्र 4 प्रतिशत खरीद अनुसूचित जाति और जनजातियों से रिजर्व के UPA के फैसले को क्यों लागू नहीं करता.कल लुधियाना में एक जनसभा को संबोधित करते हुए श्री मोदी ने कहा कि भारत में आज भी दलितों पर अत्याचार किया जाता है जिससे उनका सरशरम से झुक जाता है|

मोदी ने कहा ” आज के ज़माने में भी हम सुनते हैं कि हमारे दलित भाइयों के खिलाफ अपराध किए जाते हैं मुझे बेहद शर्म महसूस होती है .मसटर मोदी ने यह दावा भी किया कि सरकार को अब दलितों की खबर पकड़ने करती होगी.उन्होंने कहा कि आजादी के 70 साल के इस मोर्चे पर अधिक ध्यान देना होगी| मोदी ने कहा कि एक दलित या आदिवासी की आरज़वीं भी कम नहीं होती और अगर मौका मिले तो वह भी भारत की किस्मत बदलने में पीछे नहीं रहेंगे।

TOPPOPULARRECENT