Monday , December 18 2017

भाजपा के राब्ते में कांग्रेस एमएलए !

कांग्रेस के दो एमएलए मनोज यादव और निर्मला देवी भाजपा के आला लीडरों के राब्ते में हैं। निर्मला देवी के शौहर साबिक़ वज़ीर योगेंद्र साव और मनोज यादव दिल्ली में कैंप कर रहे हैं। इत्तिला है कि दोनों ने जुमेरात को भाजपा के आला लीडरों से ब

कांग्रेस के दो एमएलए मनोज यादव और निर्मला देवी भाजपा के आला लीडरों के राब्ते में हैं। निर्मला देवी के शौहर साबिक़ वज़ीर योगेंद्र साव और मनोज यादव दिल्ली में कैंप कर रहे हैं। इत्तिला है कि दोनों ने जुमेरात को भाजपा के आला लीडरों से बात की। बताया जाता है कि कांग्रेस के एमएलए को भाजपा में शामिल कराने को लेकर दिल्ली में प्लॉट तैयार किया जा रहा है। कांग्रेस के एमएलए आलमगीर आलम को पार्टी एमएलए दल का लीडर चुने जाने को लेकर नाराज हैं।

रांची में जुट रहे एमएलए : भाजपा की तरफ से कांग्रेस के छह एमएलए में से चार को तोड़ कर पार्टी में शामिल कराने की कोशिश की जा रही है। ऐसी सुरते हाल में दल-बदल का मामला नहीं बनेगा। ज़राये के मुताबिक, कांग्रेस के तमाम एमएलए रांची में जुटनेवाले हैं। विदेश सिंह पहले से ही रांची में मौजूद हैं। इरफान अंसारी और बादल पत्रलेख के जल्द ही रांची पहुंचने की इत्तिला है। निर्मला देवी फिलहाल अपने इलाक़े में हैं, हालांकि उनके शौहर योगेंद्र साव दिल्ली में कैंप कर रहे हैं।

पूछे जाने पर निर्मला देवी ने कहा की मुङो इसकी जानकारी नहीं है। मैं अपने इलाक़े में हूं। एमएलए इरफान अंसारी और बादल पत्रलेख ने भी पूछे जाने पर ऐसी इमकानात से इनकार किया है। हालांकि बताया जाता है कि अभी तमाम कांग्रेस एमएलए में पूरी तरह से गोलबंदी नहीं हो पायी है।

‘‘आलमगीर आलम को पार्टी के एमएलए दल का लीडर चुने जाने के फैसले से आहत हूं। राहुल गांधी से मिल कर बात करूंगा। आलमगीर आलम अच्छे आदमी हैं, लेकिन पार्टी की आवाज नहीं बन सकते हैं। नौजवानों को आगे करना चाहिए था। जब पार्टी को एमएलए दल का लीडर थोपना ही था, तो उनसे क्यों राय ली गयी।
इरफान अंसारी, एमएलए, कांग्रेस

TOPPOPULARRECENT