Wednesday , December 13 2017

भाजपा ने चेताया, झामुमो ने उठाए सवाल

वजीरे आजम नरेंद्र मोदी के प्रोग्राम के दौरान वजीरे आला हेमंत सोरेन की हूटिंग का मामला तूल पकड़ने लगा है। भाजपा ने इस मामले में झामुमो और वजीरे आला के बयान की मज़मत की है। जुमा को भाजपा के रियासती सदर रवींद्र राय ने प्रेस कोन्फ्रें

वजीरे आजम नरेंद्र मोदी के प्रोग्राम के दौरान वजीरे आला हेमंत सोरेन की हूटिंग का मामला तूल पकड़ने लगा है। भाजपा ने इस मामले में झामुमो और वजीरे आला के बयान की मज़मत की है। जुमा को भाजपा के रियासती सदर रवींद्र राय ने प्रेस कोन्फ्रेंस कर झामुमो और वजीरे आला को वार्निंग दे डाली कि इस मामले पर अगर रियासत में माहौल बिगाड़ने की कोशिश हुई, तो भाजपा भी इसमें आवाम का साथ देगी। उन्होंने कहा कि झामुमो वजीरे आला को ढाल बनाकर गलत सियासत न करें और वजीरे आला अपने ओहदे का सियासी इस्तेमाल न करें।

वहीं दूसरी तरफ झामुमो ने इस मामले में भाजपा के सामने छह सवाल उठाए हैं। झामुमो ने दावा किया है कि उनकी तरफ से छह नुक्तों पर उठाए गए सवाल से यह साबित होता है कि भाजपा ने वजीरे आजम नरेंद्र मोदी के इस सरकारी प्रोग्राम का कैसे सियासत किया।

भाजपा ने किए करोड़ों खर्च : सुप्रियो

झामुमो के मरकज़ी जेनरल सेक्रेटरी सुप्रियो भट्टाचार्य ने वजीरे आजम के प्रोग्राम में वजीरे आला की हूटिंग किये जाने के मामले पर भाजपा के रियासती सदर रवींद्र राय के बयान पर तनकीद ज़हीर की है। सुप्रियो ने अपने बयान में छह नुक्तों को ज़ाहिर किये हैं, जिसमें उन्होंने यह साबित करने की कोशिश की है कि पीएम के सरकारी प्रोग्राम का किस तरह से भाजपा ने सियासत किया।

सीएम नहीं, आवाम की तौहीन है : शिबू

झामुमो सरबराह ने हूटिंग के बारे में कहा की यह रियासत के सीएम का ही नहीं रियासत की अवामा का भी तौहीन है।

वज़ीरों के तक़रीर में क्यों नहीं हुई हूटिंग

सुप्रियो ने कहा कि राय कहते हैं कि लोग पीएम को सुनना चाहते थे, इसलिए मोदी-मोदी कर रहे थे। जब दो मरकज़ी वज़ीर तक़रीर दे रहे थे, तब उस वक़्त ऐसा नहीं हुआ। इसके अलावा एक लाख लोगों के खाने की निजाम की गई। रवीद्र राय इस पर जेहन दें।

भट्टाचार्य ने कहा है कि सरकारी प्रोग्राम के तशहीर की निज़ाम में भाजपा ने करोड़ों खर्च किए। भाजपा ने चौराहों में होर्डिंग्स व बैनर लगाए।

सुप्रियो ने कहा कि पीएम के प्रोग्राम के लिए रियासत और जिला सतह के लीडरों को यह लालच दिया गया था कि वे अपने-अपने इलाक़े से ज्यादा से ज्यादा तादाद में लोगों को प्रोग्राम में लेकर आएं।

TOPPOPULARRECENT