भाजपा सरकार को धमकी, हमारी मांगें नहीं मानी गई तो जान दे देंगे : अन्ना हजारे

भाजपा सरकार को धमकी, हमारी मांगें नहीं मानी गई तो जान दे देंगे : अन्ना हजारे
Click for full image

नई दिल्ली : 2012 में भ्रष्टाचार आंदोलन से प्रसिद्ध हुए अन्ना हज़ारे ने केंद्र की भाजपा सरकार को धमकी दी है कि अगर उनकी बात नही सुनी गई तो वो अपने प्राणों का त्याग कर देंगे। अन्ना हज़ारे सरकार से पूरी तरह से लोकपाल बिल लाने का अनुरोध कर रहे हैं। उनका कहना है कि ना तो यूपीए सरकार ने उनकी बात मानी और ना अब भाजपा सरकार उनकी कोई बात सुन रही है।

अन्ना हज़ारे उत्तर प्रदेश के संभल में भारतीय किसान यूनियन कि किसान सम्मेलन में अपनी बात कह रहे थे। अन्ना किसानों को भी हक़ दिलाने के लिए लड़ाई लड़ रहे हैं। 2012 में हुए अन्ना आंदोलन ने भारत की राजनीति पूरी तरह से बदल दी थी। इसके बाद हुए लाकसभा चुनावों में कांग्रेस की बुरी तरह हार हुई केंद्र में भाजपा की सरकार आ गई।

लेकिन इन सब के बाच एक बात देखने लायक ये हुई की ना ही कांग्रेस ने और ना ही भाजपा ने पूरी तरह से लोकपाल बिल पर कोई रूचि दिखाई। और तो और कांग्रेस सरकार के समय हुए जिन भ्रष्टाचार आंदोलन के वजह से अन्ना ने आंदोलन किया उनहीं भ्रष्टाचार में फंसे लोग एक के बाद एक आरोपमुक्त हो गए। अब अन्ना हज़ारे फिर से आंदोलन करने के मूड में हैं। 23 मार्च से वो दिल्ली में वापस से आंदोलन करने वाले हैं। इसके लिए लोगों से उन्होंने कहा कि अगर जेल जाने को तैयार हो तो आंदोलन में ज़रूर आना।

Top Stories