Sunday , November 19 2017
Home / India / भानी राम मंगला बिरयानी की जांच के नाम पर मेवात में बवाल खड़ा करना चाहते हैं: उमर माहेम्मद

भानी राम मंगला बिरयानी की जांच के नाम पर मेवात में बवाल खड़ा करना चाहते हैं: उमर माहेम्मद

बिरयानी मामले और आपसी सौहार्द के लिये 15 को महापंचायत: उमर मोहम्मद

मेवात( हरियाणा) : मेवात की सबसे बड़ी सामाजिक संस्था मेवात विकास सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उमर मोहम्मद पाडला ने शनिवार को पुन्हाना में एक प्रेस वार्ता कर सरकार को दी चेतावनी देते हुऐ कहा कि बीफ जांच के आदेश को सरकार 14 सितंबर तक वापिस ले नहीं तो सरकार के विरोध में 15 सितंबर को नूंह कि अनाज मंडी में 36 बिरादरी की महापंचायत कर कोई भी कडे फैसले लिये जा सकते हैं। उन्होने कहा किसी भी कीमत पर मेवात के आपसी भाईचारे को बिगड़ने नहीं दिया जाऐगा। मेवात विकास सभा के अध्यक्ष उमर मोहम्मद ने कहा कि हाल ही में डिगरहेडी मामले ने यह साबित कर दिया है कि मेवाती संवेदनशील है उनके आपसी भाईचारे को किसी भी कीमत पर तोडा नहीं जा सकता है। वही उन्होने कहा कि भानी राम मंगला जो गो सेवा आयोग हरियाणा के अध्यक्ष है और वह मेवात के रहने वाले हैं वह बिरयानी की जांच के नाम पर मेवात में बवाल खड़ा करना चाहते हैं लेकिन मेवात की जनता और मेवात विकास सभा इसे किसी भी कीमत पर नहीं होने देगी। उन्होंने कहा इसके विरोध में आगामी 15 सितंबर को नई अनाज मंडी में 36 बिरादरी जिसमें बुद्धिजीवी वर्ग, धर्मगुरु, राजनेता और सभी धर्म और जाति के लोगों को दावत दी गई है। मेवात में अमन शांति और भाईचारे को खराब करने की कोशिश ना करें और सरकार द्ववारा बिरयानी जांच को लेकर की जा रही कार्रवाई से लोगों को परेशान ना करें। उन्होंने कहा अगर सरकार वाकई में गौ हत्या रोकना चाहती है तो सबसे पहले गाय बेचने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करें, उन पुलिस वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें जो मेवात में गाय लाने वालों कि मदद करते हैं। गाय हत्या करने वालों के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी न कि बकरा भैंस और कटरा की बिरयानी बेचने वाले गरीब मजदूर लोगों को परेशान करे। उन्होंने कहा आज इस बिरयानी की जांच ने मेवात के बिरयानी विक्रेताओं को बेरोजगार बना दिया है। मुर्गा-बकरा की बिरयानी बनाने से भी लोग डरने लगे है। सरकार को इस पर तुरंत कदम उठाना चाहिए अगर सरकार ने जल्दी ही इस पर कोई फैसला नहीं लिया तो महापंचायत में कड़े फैसले लिए जा सकते हैं। उन्होंने कहा मेवात का आपसी भाईचारा सदियो पुराना है इसे किसी भी कीमत पर बिगडने नहीं दिया जाएगा।

साभार  : यूनुस अलवी

TOPPOPULARRECENT