भारतीय सूफी मौलवियों के लापता के पिछे ISI का हाथ हो सकता है- सुषमा स्वराज

भारतीय सूफी मौलवियों के लापता के पिछे ISI का हाथ हो सकता है- सुषमा स्वराज
Click for full image

नई दिल्ली। निजामुद्दीन दरगाह के गद्दीनशीं समेत दो भारतीय मौलवी पाकिस्तान पहुंच कर लापता हैं। इस मामले में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट करके कहा कि इसके पीछे आईएसआई का हाथ हो सकता है।

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक सुषमा ने कहा, इस मामले को भारत शीर्ष स्तर पर ले रहा है और पाकिस्तान के शीर्ष अधिकारियों से बात कर रहा है।

एक दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा, हम कराची में उनके होस्ट से भी बात करने की कोशिश कर रहे हैं। वे प्रेशर में हैं और भारतीय कमिशन के सामने कुछ भी बोलने से इनकार कर रहे हैं।

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक निजामुद्दीन दरगाह के गद्दीनशीं आसिफ निजामी और नाजिम निजामी बुधवार को लाहौर में मशहूर दाता दरबार गए थे और फिर वहां से कराची के लिए फ्लाइट ली थी।

अमर उजाला पर छपी खबर के अनुसार, उनके परिवार के मुताबिक आसिफ को कराची जाने की इजाजत दे दी गई लेकिन अधूरे यात्रा कागजातों की वजह से नाजिम को लाहौर एयरपोर्ट पर रोक लिया गया। एक सूत्र के मुताबिक इसके बाद नाजिम लाहौर एयरपोर्ट से गायब हो गए जबकि आसिफ कराची एयरपोर्ट पहुंचने के बाद लापता हैं।

Top Stories