Saturday , December 16 2017

भारत के विकास के लिए अल्पसंख्यकों का विकास भी ज़रूरी : फ्रैंक इस्लाम

image

अलीगढ़: अल्पसंख्यकों में शिक्षा और बड़े पैमाने पर गरीबी के निम्न स्तर को देखते हुए अल्पसंख्यकों की स्थिति पर चिंता जताते हुए भारतीय मूल के अमेरिकी उद्यमी फ्रैंक इस्लाम ने आज कहा कि भारत के आर्थिक विकास के लिए अन्य वंचित समूहों की तरह अल्पसंख्यकों की प्रगति भी महत्वपूर्ण है |

उन्होंने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) के 63 वें वार्षिक दीक्षांत समारोह में कहा कि भारत में अल्पसंख्यकों की स्थिति पर शिक्षा और बड़े पैमाने पर गरीबी के निम्न स्तर के जो आँकड़े हैं वो बेहद चौकानें वाले हैं |

संयुक्त राज्य अमेरिका में निवेश समूह के अध्यक्ष फ्रैंक इस्लाम ने कहा है कि उन्हें इस बात पर गर्व था कि भारत दुनिया में “सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था” है उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि इस प्रगति के बावजूद, अल्पसंख्यकों का “सामाजिक, शैक्षिक और आर्थिक रूप से वंचित” रहना पूरे देश को भुगतना पड़ेगा |

“भारत के अल्पसंख्यकों को देश के लिए इसके समावेशी आर्थिक विकास में सक्रिय भागीदारी होना चाहिए जिससे कि जब वे सफलता की सीढियाँ चढ़ें तो भारत और दुनिया का तस्वीर बदल जाएगी |

राष्ट्र निर्माण में एएमयू की भूमिका का जिक्र करते हुए इस्लाम ने कहा कि हम आपमें भारत का भविष्य देखते हैं क्योंकि हम विभाजनकारी ताकतों और धार्मिक उग्रवाद के संकट के समय में रह रहे हैं।
उन्होंने कहा कि इस वक़्त पहले से कहीं ज़्यादा युवा पुरुष और महिलाओं की ज़रुरत है जो विश्व में शांति और मानवता के लिए जो समस्याएं खड़ी हो रहीं हैं उनको अपनी शिक्षा के माध्यम से हल करें |

विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र फ्रैंक इस्लाम ने कहा कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) उनकी ज़िन्दगी का महत्वपूर्ण हिस्सा है जिसने उनकी ज़िन्दगी बनायी है |

दीक्षांत समारोह में मशहूर हृदय रोग विशेषज्ञ अशोक सेठ के साथ साथ उद्यमी, को भी डॉक्टर ऑफ साइंस की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया।

इस मौक़े पर 200 मेधावी छात्रों को मेडल से सम्मानित किया गया | 400 से अधिक छात्रों को एम फिल और पीएचडी की डिग्री से सम्मानित किया गया। इसके अलावा, 5000 से अधिक को ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट की डिग्री से सम्मानित किया गया।

TOPPOPULARRECENT