भारत के साथ संघर्ष खत्म करने के लिए सुरक्षा और सहयोग की नीति बनाना अहम- इमरान खान

भारत के साथ संघर्ष खत्म करने के लिए सुरक्षा और सहयोग की नीति बनाना अहम- इमरान खान

25 जुलाई को पाकिस्तान में आम चुनाव हो रहे है जिसे लेकर पुरे मुल्क में सियासी सरगर्मिया तेज है। इसी मुहीम में क्रिकेटर से नेता बने इमरान खान भी लगे हुए है और ताबडतोब प्रचार में लगे हुए है। इमरान अकेले पांच जगह से चुनाव लड़ रहे है।

पाकिस्तान को इस्लामिक कल्याणकारी देश बनाने का वादा करते हुए उन्होंने कल सोमवार को अपना घोषणापत्र जारी किया. इस घोषणा पत्र में भारत से रिश्तें सुधारने के प्रयास के बारे में भी जिक्र किया गया है।

घोषणापत्र में इमरान ने कश्मीर मुद्दे को लेकर भारत से बात करने की बात कही है. इमरान ने इस मौके कहा कहा कि अगर 25 जुलाई के आम चुनाव में पाकिस्तान तहरीक – ए – इंसाफ (पीटीआई) को बहुमत मिलता है तो उनकी योजना 100 दिन के भीतर देश के सामने मौजूद गंभीर आर्थिक और प्रशासनिक संकट दूर करेंगे।

पार्टी के घोषणापत्र में कहा गया है कि हमारे क्षेत्र में शांति बहाल करने के लिए खास तौर पर भारत के साथ संघर्ष खत्म करने के लिए सुरक्षा और सहयोग की नीति बनाना अहम है।

गौरतलब है कि कई दिग्गज नेताओं के इस चुनाव से नदारद रहने या कर दिए जाने के कारण फ़िलहाल इमरान की पार्टी की स्थिति काफी मजबूत नज़र आ रही है। वही आतंकी हाफिज सईद बन्दुक के दम पर अपने 200 से ज्यादा नुमाइंदो को मैदान में खड़ा कर पाक की गद्दी पर विराजमान होने के सपने भी देख रहा है।

Top Stories