Sunday , December 17 2017

भारत जमीन का भूखा कभी नहीं रहा, दुनिया में हमारी अलग पहचान बनी है- पीएम मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज नई दिल्ली में प्रवासी भारतीय केंद्र का उद्धाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि आज विश्व में भारत की एक अलग साख बनी है। उन्होंने कहा कि सिर्फ शब्दों से नहीं बल्कि व्यवहार से हमारी प्रतिष्ठा बढ़ी है और हम वो लोग हैं जो दूसरों के लिए जीते हैं।

प्रधानमंत्री ने विश्व में भारतीय समुदाय से जुड़ने की जरूरत पर बल देते हुए कहा कि प्रवासी भारतीयों को संख्या की जगह उन्हें शक्ति के रूप में देखने की जरूरत है और प्रवासी लोगों के मन में ये भावना भरनी होगी कि देश आपको कभी भूल नहीं सकता है। उन्होंने कहा कि विदेशी भूमि पर रहने वाले भारतीयों से संपर्क स्थापित होने से देश और उनके बीच आत्मीयता का उदय हुआ है। पीएम ने कहा कि भारत कभी जमीन का भूखा नहीं रहा और दुनिया में भारत के लिए जिज्ञासा बढी। उन्होंने कहा कि भारत मानवता के मुद्दों पर भारत ने अपनी अलग साख बनाई। पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा कि अटल जी ने प्रवासी भारतीय दिवस की शुरुआत की थी, जिसे हम हर वर्ष निर्बाध रूप से मनाते हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि विश्व के कई देशों में भारतीय समुदाय के लोग रहते हैं और किसी भी देश को भारतीयों से कोई दिक्कत नहीं रही। पीएम ने कहा कि हम वो लोग हैं जो दूसरों के लिए मरते हैं और अपनापन ही भारतीयों की विशेषता है। गांधी जी का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि देश की पुकार गांधी जी को वापस स्वदेश लायी। पीएम ने कहा कि हम ब्रेन ड्रेन को ब्रेन गेन में बदल सकते हैं।

TOPPOPULARRECENT