भारत दक्षिण एशिया का सबसे दुखी देश: रिपोर्ट

भारत दक्षिण एशिया का सबसे दुखी देश: रिपोर्ट
Click for full image
प्रतीकात्मक तस्वीर

भारत को एक रिपोर्ट में दक्षिण एशिया का सबसे दुखी देश बताया गया है। संयुक्त राष्ट्र एजेंसी की तरफ से जारी इस रिपोर्ट में कहा गया है नॉर्वे दुनिया का सबसे खुशहाल देश और भारत दुनिया का सबसे दुखी देश है। इससे पिहले डेनमार्क पहले नंबर पर था।

द वर्ल्ड हैप्पिनेस रिपोर्ट में बताया गया है कि किसी देश की खुशहाली जानने का पैमाना समाजिक सुरक्षा, रहन-सहन और न्याय अहम है। इसमें कहा गया है कि खुशी मापने के पैमानों में आर्थिक विकास, सामाजिक सहायता, जिंदगी अपने ढंग से जीने की आजादी, औसत उम्र, उदारता और भ्रष्टाचार जैसे कई कारकों को ध्यान में रखा जाता है।

नॉर्वे, डेनमार्क, आइसलैंड, स्विट्जरलैंड और फिनलैंड को इस साल दुनिया के पांच सबसे खुशहाल देश घोषित किया गया है। रिपोर्ट में सेंट्रल अफ्रीका को दुनिया का सबसे दुखी देश बताया गया है। वहीं रिपोर्ट में सर्वाधिक खुशहाल देशों की वैश्विक सूची में भारत को 122वें नंबर पर रखा गया है। भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान और नेपाल इसमें भारत से बेहतर स्थिति में बताया गया है।

गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र की तरफ से 20 मार्च को वर्ल्ड हैप्पिएस्ट डे मनाया जाता है। इस बार संयुक्त राष्ट्र ने इसी दिन खुशहाल देशों की लिस्ट जारी की है। इसके तहत हर साल दुनिया के डेढ़ हजार देशों में एक हजार इंसानों से मनोवैज्ञानिक सवाल किए जाते हैं।

Top Stories