Wednesday , November 22 2017
Home / World / भारत ने अमेरिका के सामने H-1B वीज़ा का मुद्दा उठाया

भारत ने अमेरिका के सामने H-1B वीज़ा का मुद्दा उठाया

वॉशिंगटन। वित्त मंत्री अरुण जेतली ने अमरीका के समक्ष एच-1बी वीजा का मामला उठाया है। जेतली ने वाशिंगटन में अमरीका के कॉमर्स सेक्रेटरी विल्बुर रॉस से मुलाकात के दौरान एच-1बी वीजा का मुद्दा उठाया। जेतली ने रॉस के सामने अमरीका में भारतीय प्रोफेशनल्‍स के रोल से जुड़े पहलुओं को रखा।

रॉस ने कहा कि अमरीका ने एच-1बी वीजा मुद्दे को रिव्यू करने की प्रॉसेस शुरू किया है और इस पर अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है। डोनाल्ड ट्रम्प के प्रेसिडेंट बनने के बाद अमरीका-भारत के बीच कैबिनेट लेवल की यह पहली मीटिंग थी।

जानकारी के अनुसार, वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि पिछले कई सालों से इकोनॉमिक और डिफेंस में भारत-अमरीका के बीच मजबूत और स्‍ट्रैटजिक संबंध बने हुए हैं। जेतली ने कहा, ‘‘उम्‍मीद है दोनों देश अगले कुछ सालों में 500 अरब डॉलर के बायलेटरल ट्रेड का लक्ष्‍य हासिल कर लेंगे।’’

ऐसा माना जा रहा है कि जेतली ने यू.एस. कॉमर्स सेक्रेटरी को नोटबंदी के बाद मोदी सरकार द्वारा उठाए गए कई नीतिगत फैसलों के बारे में जानकारी दी। इसी बीच, विदेश मंत्रालय ने जानकारी दी है कि वह यू.एस. सरकार के लगातार संपर्क में हैं। भारत की तरफ से एच1-बी वीजा को लेकर बात की जा रही है।

TOPPOPULARRECENT