Monday , December 11 2017

भारत ने पाक उच्चायुक्त को तलब कर सौंपे उरी हमले के सबूत

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के उरी में हुए आतंकी हमले को लेकर भारत सरकार जहाँ पाकिस्तान से कई तरह के करार ख़त्म करने की बात पर गौर कर रही है वहीँ हर बार की तरह आतंकी हमलों के पीछे अपना हाथ न होने का बयान दे पल्ला झाड़ने वाले पाक को भी हमले के सुबूत देने का काम पूरा करने में लगी है।

इसी सिलसिले में आज विदेश मंत्रालय ने उरी हमले को लेकर पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित को तलब किया और उन्हें उरी हमले के सीमा से जुड़े होने के सबूत दिए। इस बात की जानकारी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने ट्वीट कर देश की जनता को दो, ट्वीट में लिखा गया: “विदेश सचिव ने आज पाक उच्चायुक्त को तलब कर उरी हमले के सीमा से जुड़े होने के सबूत दिए।”

विदेश मंत्रालय प्रवक्ता ने यह भी बताया कि पाक उच्चायुक्त को दी गयी जानकारी में उरी हमले के दो गाइड जोकि पाकिस्तान के मुजफ्फराबाद के रहने वाले हैं और जिन्हें स्थानीय गांव वालों ने पकड़ा था के हिरासत में लिए जाने की भी जानकारी दे दी गई है।

जानकारी के मुताबिक पकड़े गए गाइडों की पहचान फैसल हुसैन (20 साल) और यासीन खुर्शीद (19 साल) के रूप में हुई है। शुरूआती पूछताछ के दौरान इन्होंने खुलासा किया है कि उरी हमले में मारे गए आतंकियों में एक आतंकी भी मुजफ्फराबाद का रहने वाला था और उसका नाम हाफिज था।

TOPPOPULARRECENT