Sunday , November 19 2017
Home / Khaas Khabar / भारत-पाकिस्तान शांति प्रक्रिया टूटने की स्थिति में

भारत-पाकिस्तान शांति प्रक्रिया टूटने की स्थिति में

नई दिल्ली: भारत-पाक रिश्तों में फिर से दरार पैदा करते हुए पाकिस्तान ने आज कहा कि द्विपक्षीय शांति प्रक्रिया ‘निलंबन’ की स्थिति में है। यह इस बात का संकेत है कि इस्लामाबाद भारत के जांच अधिकारियों को अपने यहां की यात्रा करने की इजाजत नहीं देगा। उन्होंने भारत पर पाकिस्तान में अशांति पैदा करने का आरोप भी लगाया।

पाकिस्तानी उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने मीडिया के साथ संवाद के दौरान कुछ सपाट बाते रखीं और यह कहा कि मौजूदा समय में शांति प्रक्रिया ‘निलंबित’ चल रही है। वैसे भारत ने अब तक इस बात को स्वीकार नहीं किया है।

उन्होंने भारत की उन उम्मीदों पर पानी फेर दिया कि एनआईए के जांच अधिकारियों को पठानकोट आतंकी हमले की जांच के संदर्भ में पाकिस्तान की यात्रा की इजाजत दी जाएगी। पाकिस्तान का एक संयुक्त जांच दल :जेआईटी: हाल ही में भारत आया था।

बासित ने कहा, ‘‘मेरे हिसाब से पूरी जांच आदान-प्रदान के सवाल को लेकर नहीं है। यह काफी हद तक सहयोग अथवा हमारे देशों का एक दूसरे के साथ सहयोग के बारे में है ताकि इस घटना की तह तक पहुंचा जा सके।’’ पाकिस्तानी जेएआईटी के भारत के दौरे के बाद भारत को यह उम्मीद थी कि एनआईए के जांच अधिकारियों की एक टीम पाकिस्तान का दौरा करेगी। विदेश मंत्रालय ने आज इसकी पुष्टि की कि वह जल्द ही एक दल पाकिस्तान भेजना चाहेगा।

बासित ने ‘विदेश संवाददाता क्लब’ में लिखित बयान के साथ बातचीत की शुरूआत की जिसमें उन्होंने भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण यादव को पाकिस्तान में जासूसी के आरोप में पकड़े जाने के मामले का हवाला दिया।

पाकिस्तानी उच्चायुक्त ने कहा कि यादव की गिरफ्तारी स्पष्ट रूप से उस बात को आगे बढ़ाती है जो पाकिस्तान लंबे समय से कहता आ रहा है। उन्होंने पाकिस्तान के इस आरोप को दोहराया कि भारत बलूचिस्तान में दिक्कत पैदा कर रहा है।

उन्होंने कहा, ‘‘हम सभी उन लोगों से अवगत हैं जो पाकिस्तान में अशांति पैदा करने और देश को अस्थिर करने की कोशिश में है।’’

(भाषा पीटीआई के हवाले से ख़बर)

TOPPOPULARRECENT