Wednesday , September 19 2018

‘भारत माता की जय’ न बोलना संविधान का अपमान नहीं : शशि थरूर

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व सांसद शशि थरूर ने कहा है कि हम सभी लोग भारत माता की जय बोलते हैैं, लेकिन इसके लिए किसी पर दबाव नहीं बनाया जा सकता है। यदि धार्मिक नजरिए से कोई भारत माता की जय न बोलकर जय हिंद या जय भारत कहता है तो इसकी संविधान में आजादी है। यह संविधान का अपमान नहीं है। फिर भी इसे मुद्दा बनाया जाता है ताकि निहित उद्देश्यों के तहत इसका संदेश लोगों के बीच में फैलाया जा सके।

आल इंडिया प्रोफेशनल कांग्रेस (एआइपीसी) की ओर से आयोजित समावेशी राजनीति से राष्ट्र का निर्माण विषयक परिचर्चा में मुख्य अतिथि शशि थरूर ने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए पेशेवरों का आह्वान किया कि धार्मिक उन्माद, कट्टïरता के खिलाफ सक्रिय राजनीति में वे आगे आएं। उन्होंने कहा कि चार साल में अब यह स्पष्ट हो गया है कि भाजपा ïफूट डालने की राजनीति कर रही है। लोगों को वैमनस्यता का धीमा जहर दिया जा रहा है। इसके लिए जानबूझकर जुमले फेंके जाते हैैं। इसी कड़ी में जिन्ना प्रकरण का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि मैैं उनका फैन नहीं हूं, लेकिन अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में तो उनकी फोटो 1938 से टंगी हुई है। इस बीच केंद्र व राज्य में भाजपा की सरकारें भी रह चुकी है, तब यह प्रकरण क्यों नहीं उछाला गया। थरूर ने कहा कि विश्वविद्यालयों में मसल पावर दिखाया जा रहा है। उनके बोलने और विचार को रोकने की कोशिश हो रही हैैं। यदि शैक्षिक संस्थानों और विश्वविद्यालयों में विचार प्रवाह रोक दिया गया तो यह एक बड़ा नुकसान होगा।

शेरो-शायरी के बीच अपनी बात आगे बढ़ाते हुए थरूर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले से 14 बार न्यू इंडिया का जिक्र किया। उनका न्यू इंडिया महात्मा गांधी के न्यू इंडिया से अलग है। मोदी सरकार की योजनाओं पर हमलावर होते हुए उन्होंने कहा-दिखाकर ख्वाब अच्छे का, क्या बदतर हाल कर डाला। अब यह कहने में किसी को असमंजस नहीं है कि नोटबंदी बुरा आइडिया था। दो करोड़ रोजगार देने का वादा था, चार साल में आठ करोड़ को रोजगार मिलना चाहिए था। लेकिन, कितनों को मिला। तमाम योजनाएं हैैं, स्टार्टअप इंडिया…स्टैैंडअप इंडिया…डिजिटल इंडिया और अब सिट डाउन इंडिया।

इससे पहले आल इंडिया प्रोफेशनल कांग्रेस की यूपी चैप्टर की अध्यक्ष डा. अमीता सिंह ने कहा कि समान सोच वाले नागरिकों, प्रबुद्धजन को आगे आकर राष्ट्रहित में आवाज उठानी चाहिए। प्रोफेशनल कांगे्रस के चैप्टर का विस्तार किया जाएगा। अभी 19 राज्यों में 43 चैप्टर हैैं। इस साल तक इनकी संख्या 50 से अधिक हो जाएगी। एआइपीसी के नार्थ जोन के संयोजक सलमान अनीस सोज के साथ ही मुख्य कार्यकारी अधिकारी आलिम जावेरी ने भी विचार व्यक्त किए।

इससे पहले प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारों के सवाल पर शशि थरूर ने कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस सरकार बनाएगी। सिद्धारमैया सरकार ने वहां 95 फीसद वादे पूरे किए हैैं। यह पूछे जाने पर कि योगी के चुनाव प्रचार का क्या असर रहा, उन्होंने कहा कि वह कुछ मठों को प्रभावित करने के लिए गए थे। वहां के भाजपाइयों ने ही उन पर सवाल उठा दिया, इसीलिए बार-बार उन्हें यूपी लौटना पड़ा। कर्नाटक में योगीगीरी नहीं चली।

TOPPOPULARRECENT