Tuesday , December 12 2017

भारत-म्यांमार सीमा पर भारतीय सेना की बड़ी कार्रवाई, म्यांमार बॉर्डर पर नगा उग्रवादियों के कैंप तबाह

भारतीय सेना ने म्यांमार बॉर्डर पर बड़े ऑपरेशन को अंजाम दिया है. बुधवार को भारतीय सेना ने म्यांमार के नगा इंसर्जेंट कैंप पर जवाबी कार्रवाई की. इस कार्रवाई में कई उग्रवादियों के मारे जाने और कैंप तबाह होने की खबर है. जहां इस ऑपरेशन को अंजाम दिया गया, वो जगह भारत-म्यांमार बॉर्डर से 10-15 किलोमीटर दूर है.  खुफिया सूचनाओं के आधार पर सेना को इस कैंप की जानकारी बहुत पहले हो गई थी और यह ऑपरेशन 2-3 दिन से एक्‍टिव था. हालांकि सेना ने सुबह 7:30 बजे कैंप पर हमला बोला था.  भारतीय सेना के ईस्टर्न कमांड ने यहां से नगा उग्रवादियों के कई कैंप बर्बाद किए. भारत की इस कार्रवाई में कई आतंकियों के मरने की सूचना है, लेकिन आधिकारिक तौर पर अभी इसकी पुष्टि नहीं हुई है.

भारतीय सेना ने बेहद सुनियोजित तरीके से ऑपरेशन को अंजाम दिया. सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक शब्द का इस्तेमाल नहीं किया है पर यह जरूर कहा कि भारत-म्यांमार सीमा पर इस ऑपरेशन को अंजाम दिया गया। एनएससीएन (के) के कई उग्रवादी इस कार्रवाई में मारे गए हैं। उग्रवादी संगठन के कई कैंम्प तबाह कर दिए गए हैं।

सूत्रों के मुताबिक, साढ़े तीन घंटे तक चले ऑपरेशन में कई कैंप नष्ट हुए हैं. भारतीय सेना के ईस्टर्न कमांड के मुताबिक, इस दौरान इंडो-म्यांमार बॉर्डर को क्रॉस नहीं किया गया. सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक शब्द का इस्तेमाल नहीं किया है, लेकिन यह जरूर कहा कि भारत-म्यांमार सीमा पर इस ऑपरेशन को अंजाम दिया गया. एनएससीएन (के) के कई उग्रवादी इस कार्रवाई में मारे गए हैं. भारतीय सेना के किसी भी जवान को नुकसान नहीं पहुंचा है.

बता दें कि भारतीय सेना ने जून 2015 में भी म्यांमार सीमा के  दो किलोमीटर अंदर घुसकर उग्रवादियों के दो कैंप पुरी तरह तबाह कर डाले। सेना की इस कार्रवाई में करीब 100 उग्रवादी मारे गए थे। इस अभियान में उग्रवादियों के दो कैंप पूरी तरह से बरबाद कर दिए गए थे। इस कार्रवाई में सेना ने MI-17 हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया। इससे पहले 2003 में सेना ने ऐसा ऑपरेशन भूटान सीमा में घुसकर उल्फा के खिलाफ किया था।

मालूम हो कि जम्मू-कश्मीर में सेना के एक कैंप पर आतंकी हमले में 19 सैनिकों के शहीद हो जाने के बाद गत वर्ष 28-29 सितंबर की दरमियानी रात सेना के विशेष बल ने एलओसी पार आतंकियों के लॉन्चिंग पैड पर सर्जिकल स्ट्राइक की थी। इस कार्रवाई में सीमा पार से घुसपैठ की ताक में बैठे कई आतंकी मारे गए थे।

TOPPOPULARRECENT