भारत 130 करोड़ की आबादी वाला देश होने के बावजूद संयुक्त राष्ट्र संघ सुरक्षा परिषद का स्थाई सदस्य क्यों नहीं है- हसन रुहानी

भारत 130 करोड़ की आबादी वाला देश होने के बावजूद संयुक्त राष्ट्र संघ सुरक्षा परिषद का स्थाई सदस्य क्यों नहीं है- हसन रुहानी

नई दिल्ली। ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने एकबार संयुक्त राष्ट्र में भारत की स्थायी सदस्यता की वकालत की है। भारत के दौरे पर आए ईरानी राष्ट्रपति ने कहा कि 130 करोड़ से ज्यादा की आबादी वाला भारत यूनएन सिक्योरिटी काउंसिल का स्थायी सदस्य नहीं है जबकि अमेरिका इसका परमानेंट मेंबर है।

दिल्ली में ताज होटल में आयोजित एक कार्यक्रम में ईरानी राष्ट्रपति ने कहा कि 130 करोड़ से ज्यादा की आबादी वाले भारत के पास यूएन वीटो पॉवर क्यों नहीं है वहीं अमेरिका के पास यह पॉवर क्यों है ?

आखिर क्यों परमाणु ताकत वाले पांच देशों को ही वीटो पॉवर दी गई है।
आपको बता दें कि यूएनएससी में अमेरिका, रूस, चीन, ब्रिटेन के साथ-साथ फ्रांस के पास वीटो पॉवर है।

Top Stories