Monday , June 18 2018

भोपाल एनकाउंटर की जांच की मांग करने वाले देशद्रोही कैसे हो गए: चिदंबरम

चेन्नई: (सियासत समाचार) मध्य प्रदेश में जेल तोड़कर फरार होने के आरोपी सिमी के 8 कार्यकर्ताओं की हत्या की घटना की जांच की मांग करने वालों को देशद्रोही करार देने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पूर्व केंद्रीय गृहमंत्री पी चिदंबरम ने आज कहा कि वह संदेह का निवारण करना चाहते हैं, किसी के भी जेल तोड़कर भागने का समर्थन नहीं कर रहे हैं. उन्होंने यह सवाल किया कि उक्त घटना पर कुछ संदेह पैदा हो गया है जिसका निवारण करते हुए जांच की मांग की गई तो गलत क्या है? अगर जांच की मांग करने वालों को देशद्रोही करार दिया गया तो उसका क्या मतलब है?

श्री पी चिदंबरम ने कहा कि अगर भगोड़ा सिमी कार्यकर्ताओं को पुलिस जिंदा गिरफ्तार करती तो यह खुलासा होता कि वे कैसे भागे और किसने उनकी सहायता की.
गौरतलब है कि भोपाल जेल से कथित तौर पर भागने के बाद सिमी के कार्यकर्ताओं को पुलिस मुठभेड़ में मार दिया गया था. यह घटना भोपाल के करीबी इलाके में 31 अक्टूबर को हुई थी. कांग्रेस नेता चिदंबरम ने बताया कि सरकार मध्य प्रदेश सरकार ने पिछले दिनों में इस घटना की 5 अलग अलग जांच की घोषणा की थी, और अब सेवानिवृत्त न्यायाधीश द्वारा जांच का अंतिम फैसला किया गया है. सरकार अंततः जांच को तैयार हुई है लेकिन केवल एक दिन में यह निर्णय क्यों नहीं कर सकी.

TOPPOPULARRECENT