Thursday , May 24 2018

भोपाल एनकाउंटर के विरोध में उज्जैन की मुस्लिम महिलाएं उतरीं सड़को पर

उज्जैन: मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में गुरुवार को दो हजार से अधिक महिलाओं ने भोपाल फर्ज़ी इनकाउंटर के खिलाफ सड़कों पर उतरीं। यह विरोध प्रदर्शन जिला मुख्यालय से लगभग 30 किलोमीटर दूर महीदपुर कस्बे में किया गया। महिलाओं ने पुलिस, एटीएस, जेल प्रशासन के खिलाफ़ मुर्दाबाद के नारे लगाए। उनके हाथों में तख्तियां थी जिस पर लिखा था-‘हमें न्याय चाहिए’ और ‘हम फर्जी मुठभेड़ की जांच चाहते हैं’। महिलाओं ने एनकाउंटर को फर्जी बताते हुए सीबीआई से जांच की मांग की।

इस प्रदर्शन में एनकाउंटर में मारे गए अब्दुल माजिद की पत्नी और मां भी शामिल थीं। तहसील मुख्यालय की ओर कूच करते समय महिलाओं ने नारा लगाया कि भोपाल सेंट्रल जेल में बंद सिमी के दूसरे सदस्यों के जान को खतरा है। उन्होंने तहसील मुख्यालय में तहसीलदार सरिता लाल से मुलाकात किया और एक ज्ञापन सौंपा। यह ज्ञापन महीदपुर के अनुविभागीय दंडाधिकारी एसडीएम के नाम था।

इस ज्ञापन में हो रहे फर्ज़ी एनकाउंटर और मुस्लिमों के साथ हो रहे जुल्म पर जांच की मांग की गई। जुलूस में भाग लेने वाली एक महिला ने पत्रकारों से कहा कि हमने यह सुनिश्चित करने के लिए बुर्का पहना हुआ है कि पुलिस हमें कहीं पहचान न ले। मुसलमान पुरूष विरोध-प्रदर्शन नहीं कर सकते, क्योंकि पुलिस और एनआईए उन्हें उठा ले जाती है।

 

TOPPOPULARRECENT