Monday , December 11 2017

भोपाल एनकाउंटर: जांच के बाद ही पुलिसकर्मियों को मिलेगी ईनाम की राशि

भोपाल: भोपाल जेल से कथित 8 सिमी सदस्यों के फरार होने और फेक एनकाउंटर में मारे जाने के मामले में, अहम रोल निभाने वाले पुलिसकर्मियों को दो-दो लाख रुपये का इनाम देने का भोपाल सरकार ने फैसला किया था, लेकिन आरोपियों के एनकाउंटर की सत्यता पर लगातार सवाल उठने के कारण इसको अंजाम देने वाले पुलिसकर्मियों को मिलने वाले ईनाम को मध्य प्रदेश के सरकार ने फिलहाल रोक दिया है.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

ONE INDIA के अनुसार, पुलिस वालों को पुरस्कार देने की घोषणा न्यायिक जांच घोषित होने से पहले की गई थी. अब जब मामले की न्यायिक जांच की घोणणा हो जाने से और एनकाउंटर पर सवाल खड़े होने के कारण सरकार ने फिलहाल इनाम को रोक दिया है.
आपको बतातें चलें कि 30-31 अक्टूबर की रात को भोपाल सेंट्रल जेल से सिमी के आठ सदस्यों पर हेड कांस्टेबल रमाशंकर की हत्या कर फरार होने का आरोप है.इसके कुछ घंटों बाद ही भोपाल पुलिस ने शहर के पास ही एक मुठभेड़ में इन आठों को मार गिराने का दावा किया था.
इस पर मध्य प्रदेश सरकार ने जमकर अपनी पीठ ठोकी थी और एनकाउंटर को अंजाम देने वाला पुलिसकर्मियों को ईनाम की घोषणा की थी.
एनकाउंटर के बाद पुलिस अधिकारियों और नेताओं के बयान, कुछ वीडियो व जेल से आतंकियों के भागने की कहानी ने पूरे मामले को संदेह में ला दिया. जिसके बाद इसकी जांच की मांग कई संगठनों और विपक्षी पार्टियों ने की.
अब पूरे मामले की जांच और एनकाउंटर की सत्यता सामने आने के बाद ही पुलिस कर्मियों के दिए जाने वाले ईनाम पर फैसला किया जाएगा.

TOPPOPULARRECENT