Saturday , December 16 2017

मंगलहॉट के प्लास्टिक गोदाम में आग, 7 मंज़िला इमारत मुनहदिम

हैदराबाद 18 अप्रैल:मंगलहॉट के इलाके सीतारामबाग़ में आग का वाक़िया पेश आया जिसमें सात मंज़िला प्लास्टिक के गोदाम जल कर ख़ाकसतर हो गया और इमारत मुनहदिम हो गई। इस वाक़िये में करोड़ों रुपये मालियती अश्याय जल कर ख़ाकसतर हो गईं, कोई जानी नुक़्सान की इत्तेला नहीं है।

इस वाक़िये के पेशे नज़र जी एच एमसी हुक्काम ने इमारत के अतराफ़-ओ-अकनाफ़ मकानात का फ़ौरी तख़लिया करा दिया। तफ़सीलात के मुताबिक बेगम बाज़ार में वाक़्ये राज प्लास्टिक्स के मालिक अमर अग्रवाल ने एक साल पहले सात मंज़िला इमारत सीतारामबाग़ में इलाके में तामीर करवाई और इस मुकम्मिल इमारत को प्लास्टिक के एक गोदाम में तबदील कर दिया।

गोदाम से धुआँ निकलता हुआ देखकर मुक़ामी अवाम ने मंगलहॉट पुलिस को आगाह किया और दो घंटों की ताख़ीर के बाद फ़ायर अमला जाये हादसे पर पहुंच गया। प्लास्टिक होने के सबब आग मुकम्मिल इमारत को अपनी लपेट में लिया था। और सीतारामबाग़ इलाके में धोवें के बादल छा गए। बताया जाता हैके सात मंज़िला गै़रक़ानूनी तौर पर तामीर की गई थी और मुतास्सिरा इमारत में लगी हुई आग पर क़ाबू पाने के लिए फ़ायर इंजन अमला को काफ़ी दुशवारीयों का सामना करना पड़ा।

चूँकि फ़ायर इंजन दाख़िल होने की मुनासिब रास्ता मौजूद नहीं था। फ़ायर इंजन अमला ने गोदाम के शटर को तोड़ कर आग पर क़ाबू पाने की कोशिश की लेकिन इस में नाकाम होने के बाद गोदाम से मुत्तसिल पाँच मंज़िला इंडियन पब्लिक स्कूल की इमारत की दीवार को तोड़ कर प्लास्टिक गोदाम में दाख़िल होने के बाद आग पर क़ाबू पाने का ऑप्रेशन का आग़ाज़ किया।

डिस्ट्रिक्ट फ़ायर ऑफीसर एम श्रीनिवास रेड्डी ने बताया कि भारी मिक़दार में प्लास्टिक अश्याय मौजूद होने के सबब आग पर क़ाबू पाना बेहद मुश्किल साबित हुआ और मुसलसिल बारह घंटों की आग के नतीजे में इमारत मुनहदिम हो गई।इस ऑप्रेशन में दस से ज़ाइद फ़ायर इंजन का इस्तेमाल किया गया और हैदराबाद की तारीख़ में पहली मर्तबा बारह घंटों से ज़ाइद मुसलसिल आग पर क़ाबू के लिए जद्द-ओ-जहद की गई।

कमिशनर पुलिस हैदराबाद महिन्द्र रेड्डी कमिशनर जीएचएमसी बी जनार्धन रेड्डी और कलेक्टर हैदराबाद राहुल बोज्ह ने जाये हादसे का मुआइना किया। ज़राए ने बताया कि ग़ैर मजाज़ तौर पर तामीर किए गए गोदाम के ख़िलाफ़ मुक़ामी अवाम ने मंगलहॉट पुलिस और जीएच्चीएमसी ओहदेदारों को शिकायत की थी लेकिन इस सिलसिले में कार्रवाई करने से क़ासिर है।

TOPPOPULARRECENT