Saturday , December 16 2017

मंडल ट्रेन का सफ़र शुरू होचुका : लालू

क़ौमी सियासत में नए समाजी इंतिज़ाम के मंसूबों को बिलवासता हवाला देते हुए आर जे डी सरबराह लालू प्रसाद यादव ने आज कहा कि मंडल ऐक्सप्रेस आगे बढ़ रही है और जो इस में सवार होना चाहते हैं वो ऐसा करसकते हैं वर्ना ये ट्रेन छूट जाएगी।

क़ौमी सियासत में नए समाजी इंतिज़ाम के मंसूबों को बिलवासता हवाला देते हुए आर जे डी सरबराह लालू प्रसाद यादव ने आज कहा कि मंडल ऐक्सप्रेस आगे बढ़ रही है और जो इस में सवार होना चाहते हैं वो ऐसा करसकते हैं वर्ना ये ट्रेन छूट जाएगी।

लालू प्रसाद यादव ने आज एक प्रेस कान्फ़्रेंस से ख़िताब करते हुए कहा कि मंडल (मंडल कमीशन रिपोर्ट) आज के वक़्त की अहम ज़रूरत है। उन्होंने कहा कि समाजी इंसाफ़ का तहफ़्फ़ुज़ करने के लिए यही सही हथियार है। उन्होंने कहा कि मंडल ट्रेन शुरू होचुकी है जो इस में सवार होना चाहते हैं उनका खैरमक़दम है और जो दिलचस्पी नहीं रखते वो महरूम रह जाऐंगे।

उन्होंने कहा कि मंडल 90 के दहे में बिहार में सियासी तबदीली की अलामत बन गया था। नीतीश कुमार से दोस्ती का इशारा देते हुए उन्हों ने कहा कि नीतीश हमारे थे। वो सेकूलर में प्रवान चढ़े लेकिन बी जे पी के साथ होगए और उसे तरक़्क़ी का मौक़ा दिया। उन्होंने कहा कि जनतादल यू की बी जे पी से तलाक़ के नतीजा में वोट तक़सीम होगए।

उन्होंने कहा कि हम ने राज्य सभा में बिहार से बी जे पी को मात दी। वाज़िह रहे कि मंडल कमीशन सिफ़ारिशात के ज़रिया ओ बी सी को मलाज़मतो में तहफ़्फुज़ात फ़राहम किए गए और उस की वजह से आर जे डी को बिहार में 15 साल इक़तिदार पर रहने में मदद मिली।

बैरूनी कंपनियां हलवा नहीं खिलाएगी
नरेंद्र मोदी हुकूमत की जानिब से दिफ़ा और रेलवेज़ में ग़ैरमुल्की सरमाया कारों को दावत का हवाला देते हुए लालू प्रसाद यादव ने कहा कि अब ये हुकूमत पी पी पी (पब्लिक प्राईवेट पार्टनरशिप) की बांसुरी बजा रही है। उन्होंने कहा कि बैरूनी ममालिक यहां दौलत कमाने के लिए आयेंगे। वो आप (अवाम) को हलवा नहीं खिलाएंगे।

बजट में 100 असरी शहरों की तजवीज़ पर लालू प्रसाद ने कहा कि शंघाई की तर्ज़ का एक शहर बनाना भी मुश्किल है क्योंकि इसके लिए मुकम्मल सालाना बजट दरकार होगा।

TOPPOPULARRECENT