Friday , July 20 2018

मंदिर का अपमान, मुख्यमंत्री की जनता से शांति की अपील

जम्मू: शहर जम्मू में एक पागल व्यक्ति की ओर से कल शाम एक मंदिर का अपमान की घटना के बाद लोगों से शांति की अपील करते हुए चीफ़ मिनिस्टर जम्मू-कश्मीर महबूबा मुफ्ती ने आज कहा कि वह नहीं चाहती कि राज्य की शांति उग्रवादी ताकतें अपहरण कर लें। जम्मू-कश्मीर उच्च सक्योलर स्थान है। वह जम्मू विश्वविद्यालय के एक समारोह को संबोधित कर रही थीं उन्होंने कहा कि कुछ तत्व इस क्षेत्र में सांप्रदायिक तनाव पैदा करने पर तुले हुए हैं लेकिन जम्मू की जनता बलालषाठ धर्म और समुदाय एकजुट हो जाना चाहिए और उनके घृणित इरादों लड़ना चाहिए।

उन्होंने कहा कि अलगाववाद और सांप्रदायिकता एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। दोनों आखिरकार समाज और देश को विभाजित करते थीं। उन्होंने कहा कि एक प्राचीन होते जो रूप नगर क्षेत्र में जम्मू में स्थित था, उसे एक पागल आदमी का अपमान किया। कल इस घटना के खिलाफ पूरे शहर में विरोध प्रदर्शन किया गया।

प्रदर्शनकारियों ने कल रात तीन वाहनों को आग लगा दी और खबर फैलने के बाद पुलिस के साथ संघर्ष हो गए। अधिकारियों ने जम्मू क्षेत्र में एहतियाती उपाय के रूप में मोबाइल सेवा निलंबित कर दी हैं। महबूबा मुफ्ती ने कहा कि बार बार जम्मू की जनता अपनी सक्योलर साख साबित कर चुके हैं। इस क्षेत्र जनता को उग्रवाद से प्रभावित क्षेत्रों से आने पर शरण देता है।

TOPPOPULARRECENT