Saturday , December 16 2017

मंशाए वक़्फ़ कान्फ़्रैंस वक़्त का तक़ाज़ा, शहबाज़ अहमद ख़ां

हैदराबाद।२५ अक्टूबर : तेलगुदेशम‌ पार्टी की अक़ल्लीयती सेल ग्रेटर हैदराबाद जनाब मुहम्मद शहबाज़ अहमद ख़ान ने वक़्फ़ का मंशाए-ए- कान्फ़्रैंस को वक़्त की अहम ज़रूरत क़रार देते हुए कहा कि अफ़सोसनाक पहलू ये हीका आंधरा प्रदेश ने कांग

हैदराबाद।२५ अक्टूबर : तेलगुदेशम‌ पार्टी की अक़ल्लीयती सेल ग्रेटर हैदराबाद जनाब मुहम्मद शहबाज़ अहमद ख़ान ने वक़्फ़ का मंशाए-ए- कान्फ़्रैंस को वक़्त की अहम ज़रूरत क़रार देते हुए कहा कि अफ़सोसनाक पहलू ये हीका आंधरा प्रदेश ने कांग्रेस के दौर-ए-इक्तदार में इंदिरा राजीमा के नाम से अस्क़ामस दर अस्क़ामस का सिलसिला जारी है।

मुस्लमानों की मआशी, तालीमी पसमांदगी (हीनता) में जिस क़दर इज़ाफ़ा होता जा रहा है इतना ही अक़ल्लीयतों के नाम बिलख़सूस मुस्लमानों की फ़लाह-ओ-बहबूदगी के नाम पर क़ायम किए गए इदारों की लूट खसूट का मर्कज़ बना दिया गया है। इन तमाम मह्कमाजात (विभाग‌)में कलीदी ओहदों पर फ़ाइज़ ऑफीसरस की कारस्तानीयों पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

सिर्फ चंद एक छोटे वाक़ियात को बताया जा रहा है जबकि अगर इन तमाम धांदलियों बदउनवानीयों पर ग़ैर जांबदाराना शफ़्फ़ाफ़ अंदाज़ में तहक़ीक़ात (जांच‌)की जाएं तो उन वाक़ियात(घटना) के पसेपर्दा आला ओहदेदारों की साज़िशों को मंज़र-ए-आम पर लाया जा सकता है।

TOPPOPULARRECENT