Sunday , July 22 2018

मआशी परेशानियां रूस की जी 20 कान्फ़्रैंस में मुंतक़िल

दुनिया की सब से बड़ी उभरती हुई मंडीयां रूस में जारीया हफ़्ता मुक़र्रर G -20 चोटी कान्फ़्रैंस में मआशी मर्कज़ तवज्जा बनी रहेंगी । जब कि उरूज के इमकानात अचानक कम हो गए हैं । ब्राज़ील रूस हिंदुस्तान चीन और जुनूबी अफ़्रीक़ा जिन्हें ब्र

दुनिया की सब से बड़ी उभरती हुई मंडीयां रूस में जारीया हफ़्ता मुक़र्रर G -20 चोटी कान्फ़्रैंस में मआशी मर्कज़ तवज्जा बनी रहेंगी । जब कि उरूज के इमकानात अचानक कम हो गए हैं । ब्राज़ील रूस हिंदुस्तान चीन और जुनूबी अफ़्रीक़ा जिन्हें ब्रिक्स ग्रुप कहा जाता है।

बैनुल अक़वामी मआशी मीनार रोशनी समझे जाते हैं इन तमाम को सुस्त रफ़्तार तरक़्क़ी का सामना है और उन की क्रंसीयों की क़दर में मुसलसल इन्हितात पैदा हो रहा है। रूस और मग़रिबी ममालिक के दरमयान शाम में जंग कशीदगी की वजह बन गई है।

इमकान है कि ये तनाज़ा सेंट पीटर्सबर्ग में मुक़र्रर चोटी कान्फ़्रैंस को भी मुतास्सिर करेगा । सुस्त रफ़्तार शरह तरक़्क़ी सब से ज़्यादा परेशानकुन है । तक़रीबन तमाम तरक़्क़ी पज़ीर ममालिक में शरह तरक़्क़ी सुस्त रफ़्तार हो गई है और तवील मुद्दती तरक़्क़ी के वसाइल पर ग़ौर करने की ज़रूरत महसूस की जा रही है।

रूस के ओहदेदार बराए G-20 चोटी कान्फ़्रैंस ने कहा कि ब्रिक्स ग्रुप के ममालिक अमरीकी वफ़ाक़ी ज़ख़ाइर को ख़त्म कर देने के इस के मंसूबों पर सख़्त फ़िक्रमंदी का शिकार हैं।

TOPPOPULARRECENT