मकान नंबरों को डीजीटल बनाने का फ़ैसला

मकान नंबरों को डीजीटल बनाने का फ़ैसला
Click for full image

हैदराबाद 14 जून: जीएचएमसी हुदूद में घरों के बलदी नंबरों को आसान और असरी बनाने के मक़सद से शहर में अनक़रीब डीजीटल हाओज़ नंबर का तरीका-ए-कार मुतआरिफ़ किया जाएगा।

ये बात शहर ग्रेटर हैदराबाद बी राम मोहन ने बताई। शहरे हैदराबाद में तजुर्बाती तौर पर दोमलगुड़ा के इलाके में डीजीटल हाओज़ नंबर का काम जारी है और ज़हपर नामी इदारा इस काम को अंजाम दे रहा है। मेयर ने दोमलगुड़ा में जारी कामों का जायज़ा लिया और बताया कि शहर में भी अनक़रीब डीजीटल हाओज़ नंबर को यक़ीनी बनाया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस नंबर में शहरी के नाम के अलावा मुहल्ला-ओ-शहर की तफ़सीलात होगी और इस की मदद से बर्क़ी आबी और बलदी मुहासिल की वसूली और बक़ायाजात के मुताल्लिक़ तफ़सीलात को हासिल करने में आसानी होगी। उस के अलावा इंटरनेट के ज़रीये मकान के मुताल्लिक़ तफ़सीलात को भी हासिल किया जा सकता है।

Top Stories