Friday , September 21 2018

मक्का कॉलोनी की सड़कें ख़सताहाली का शिकार

ग्रेटर हैदराबाद म़्यूनिसिपल कारपोरेशन ( जी उच्च एम सी ) की मुबय्यना लापरवाही के बाइस शहर के मुतअद्दिद मुक़ामात बेहिसाब मसाइल से दो-चार होगए

ग्रेटर हैदराबाद म़्यूनिसिपल कारपोरेशन ( जी उच्च एम सी ) की मुबय्यना लापरवाही के बाइस शहर के मुतअद्दिद मुक़ामात बेहिसाब मसाइल से दो-चार होगए
हैं । इस की एक मिसाल मक्का कॉलोनी ताड़बन की है जहां ख़सताहाल सड़कें अवाम के लिये दर्द-ए-सर बन गए हैं । सड़कों की दरूस्तगी-व-मुरम्मत के लिये
मुक़ामी शहरियों ने बारहा बलदिया को तवज्जा दिलाई इस के बावजूद उस की दरूस्तगी में मुबय्यना तौर पर लापरवाही की जा रही है जब कि इस बात की भी
इत्तिला है कि यहां की सड़कों की मुरम्मत-व-दरूस्तगी के लिये रुकमी मंज़ूरी भी हुई लेकिन हनूज़ काम का आग़ाज़ नहीं किया गया जिस की वजह से मुक़ामी
अफ़राद में सख़्त ब्रहमी पाई जाती है ।

इस सिलसिला में जनाब सय्यद साबिर हुसैन वलद जनाब सय्यद जाफ़र हुसैन साकन मक्का कॉलोनी ने बताया कि उन्हों ने 3 मार्च 2012 को बलदिया के फीस टू फीस प्रोग्राम में एक दरख़ास्त दाख़िल कर के मसाइल से वाक़िफ़ करवाया । इस के बाद 7 अप्रैल 12 को बलदिया के सर्किल 5 के ओहदेदारों ने दौरा कर के तख़मीना ख़र्च लगाया जिस के बाद गत्तादार ने काम शुरू नहीं करवाया । 29 जुलाई को कमिशनर बलदिया ने पुराने
शहर का दौरा किया तो उन्हें इस मसला से वाक़िफ़ करवाया गया ।

कमिशनर ने उन की नुमाइंदगी पर मुताल्लिक़ा सर्किल 5 के ओहदेदारों को फ़ौरी काम शुरू करवाने की हिदायत दी लेकिन आज तक ये काम शुरू नहीं हुआ । उन्हों ने मेयर और कमिशनर बलदिया से ख़ाहिश की कि वो फ़ौरी इस जानिब तवज्जा दें ताकि अवामी शिकायतों का अज़ाला होसके जिस से ओहदेदारों पर अवाम का एतिमाद बहाल होगा
।।

TOPPOPULARRECENT