Tuesday , January 23 2018

मक्का मुअज़्ज़मा में ट्रैफ़िक ख़लल को दूर करने केबुल कार सिस्टम

जद्दा। 10 अक्तूबर (एजैंसीज़) आज़मीन को सहूलतें फ़राहम करने और ट्राफिक ख़लल में कमी करने हुकूमत के इक़दामात के तौर पर मस्जिद उल-हराम से कदाई रसाफ़ीह और तानीम के पार्किंग एरियाज़ को मरबूत करने 12 केबल कार सिस्टम्स क़ायम करने का मंसूबा ज़ेर-ए-

जद्दा। 10 अक्तूबर (एजैंसीज़) आज़मीन को सहूलतें फ़राहम करने और ट्राफिक ख़लल में कमी करने हुकूमत के इक़दामात के तौर पर मस्जिद उल-हराम से कदाई रसाफ़ीह और तानीम के पार्किंग एरियाज़ को मरबूत करने 12 केबल कार सिस्टम्स क़ायम करने का मंसूबा ज़ेर-ए-ग़ौर है। मक्का मुकर्रमा की उम अलक़रा-ए-यूनीवर्सिटी के सैंटर आफ़ रिसर्च एकसीलनस के डायरैक्टर अदनान ग़तब ने नए केबल कार सिस्टम की इफ़ादीयत पर ज़ोर दिया। उन्हों ने कहा कि ये मुआविन हमल-ओ-नक़ल निज़ाम है और मौजूदा निज़ाम का मुतबादिल नहीं है। उन्हों ने कहा कि केबल कार सिस्टम मक्का मुकर्रमा के जुग़राफ़ियाई महल वक़ूअ के एतबार से बेहतर है चूँकि शहर मुक़द्दस का सैंटर्ल रीजन कई पहाड़ीयों से घिरा हुआ है। केबल कार एक अर्ज़ां देरपा निज़ाम है और सड़कों पर ट्राफिक बहाओ को कम करने में अहम रोल अदा करता है। ग़तब ने कहा कि इन का इदारा टोरंटो यूनीवर्सिटी के ट्रांसपोर्ट ऐंड कराउड मैनेजमैंट सैंटर के साथ मक्का मुकर्रमा के लिए बेहतरीन केबल कार ट्रांसपोर्ट सिस्टम फ़रोग़ देने पर काम कररहा है। पराजकट पर एक वर्कशॉप उम अलक़रा-यूनीवर्सिटी में कल मुनाक़िद हुआ जिस में इस पराजकट पर सऊदी और ग़ैर मुल्की तफ़सील से ग़ौर वख़ोज़ किया गया। यूनीवर्सिटी आफ़ टोरंटो के आमिर अलसलबी ने कहा कि कदाई से 2केबल कार लाइंस होंगे जबकि रसाफ़ीह से और तानीम से 6 होंगी। टू केबल कार टैक्नोलोजीज़ के इमकानात पर मुताला किया जा रहा है। एक ओहदेदार ने कहा कि कदाई से केबल कार की मुसाफ़त 2.3 केलो मीटर होगी और दरमयान में कोई स्टेशन नहीं होगा। रसाफ़ीह से हिर्म शरीफ़ तक दो केबल कार लाइंस होंगी बगै़र किसी स्टेशन के एक की मुसाफ़त 3.2 कीलोमीटर और दूसरे की मक्का रोड के मुतवाज़ी मुसाफ़त 3.3 कीलोमीटर होगी जिस पर तीन स्टेशन होंगे। तानीम से तीन केबल कार का मंसूबा है। एक मुसाफ़त 5.1 कीलोमीटर बगै़र किसी स्टेशन के होगी और दूसरी लाईन इसी मुसाफ़त के साथ शुहदा पर एक स्टेशन होगा। तीसरी लाईन सड़क के मुतवाज़ी तामीर की जाएगी जिस में तीन स्टेशन होंगे

TOPPOPULARRECENT