Thursday , August 16 2018

मक्का मुकर्रमा की तमाम मसाजिद में सऊदी अइम्मा और मोअज़्ज़िन , हुकूमत की ख़ुसूसी मुहिम

रियाद, 24 अप्रैल: (एजेंसी) सऊदी अरब के मकता उल-मुकर्रमा शहर में वाकेय तमाम मसाजिद में मुक़ामी इमाम और मोअज़्ज़िन की ख़िदमात यक़ीनी बनाने के लिए बड़े पैमाना पर मुहिम शुरू की गई है। मक्का में इस्लामी और ओक़ाफ़ी वज़ारत के सरबराह शेख अबदुल्लाह

रियाद, 24 अप्रैल: (एजेंसी) सऊदी अरब के मकता उल-मुकर्रमा शहर में वाकेय तमाम मसाजिद में मुक़ामी इमाम और मोअज़्ज़िन की ख़िदमात यक़ीनी बनाने के लिए बड़े पैमाना पर मुहिम शुरू की गई है। मक्का में इस्लामी और ओक़ाफ़ी वज़ारत के सरबराह शेख अबदुल्लाह अल नासिर ने कहा कि इस मुआमला में हम किसी तरह की रवादारी नहीं बरतेंगे। सऊदी वेब साईट सबक पर उन के हवाला से ये ख़बर शाय हुई।

शेख अबदुल्लाह नासिर ने कहा कि इस मुहिम के ज़रीया तमाम मसाजिद में मुक़ामी यानी सऊदी शहरियों की बहैसियत इमाम‍ ओ‍ मोअज़्ज़िन ख़िदमात यक़ीनी बनाई जाएगी। उन्होंने कहा कि बाअज़ अइम्मा की जानिब से ख़ुतबात के दौरान और मोअज़्ज़िन की गलतियों को पेश नज़र रखते हुए ये फैसला किया गया। उन्होंने कहा कि फील्ड इन्सपेक्टर को ये इख्तेयार रहेगा कि ख़िलाफ़वरज़ी पर ज़रूरी कार्रवाई करें। उन्होंने बैरूनी या गैर मुल्की इमाम‍ ओ‍ मोअज़्ज़िन की गलतियों की सराहत नहीं की।

उन्होंने तमाम अइम्मा और मोअज़्ज़िन हज़रात से ख़ाहिश की कि वो हुज़ूर अकरम स०अ०व० की बताई हुई तालीमात की तलक़ीन करें और अपने ख़िताब के दौरान ऐसा कोई मसला ना छेड़ें जिस से मुसलमानों के माबेन उलझन यह इख़तेलाफ़ात रौनुमा हो। उन्होंने कहा कि तफ़र्रुक़ा यह नफ़रत फैलाने वाले किसी भी इमामिया मबलग़ को सख़्त सज़ा का फैसला किया गया है।

TOPPOPULARRECENT