Saturday , February 24 2018

मजलिसी कार्पोरेटर लंगर हौज़ का इंतिख़ाब कुलअदम : हाइकोर्ट का फ़ैसला

हैदराबाद २५नवंबर ( एजैंसीज़ ) आंधरा प्रदेश हाइकोर्ट की एक डवीज़न बंच ने जो जस्टिस आशूतोष मोहनता और जस्टिस जी कृष्णा मोहन रेड्डी पर मुश्तमिल थी चीफ़ जज-ओ-इलैक्शन ट्रब्यूनल सिटी सियोल कोर्ट हैदराबाद के इस हुक्मनामा को बरक़रार रखा

हैदराबाद २५नवंबर ( एजैंसीज़ ) आंधरा प्रदेश हाइकोर्ट की एक डवीज़न बंच ने जो जस्टिस आशूतोष मोहनता और जस्टिस जी कृष्णा मोहन रेड्डी पर मुश्तमिल थी चीफ़ जज-ओ-इलैक्शन ट्रब्यूनल सिटी सियोल कोर्ट हैदराबाद के इस हुक्मनामा को बरक़रार रखा है जिस में मजलिस के लंगर हौज़ डवीज़न के कारपूरीटर के इंतिख़ाब को कुलअदम क़रार देदिया गया था ।

ट्रब्यूनल ने 2011 में अपने हुक्मनामा में रवी यादव के इंतिख़ाब को कुलअदम क़रार देते हुए बी जे पी के उम्मीदवार सी इदए कुमार को मुंतख़ब क़रार दिया था । इदए कुमार ट्रब्यूनल से ये कहते हुए रुजू हुए थे कि रवी यादव इंतिख़ाब नहीं लड़ सकते क्योंकि उन्हें इंतिख़ाब के वक़्त तीन बच्चे थे ।

उदय‌ कुमार के दाख़िल करदा दस्तावेज़ात का जायज़ा लेते हुए ट्रब्यूनल ने कहा था कि रवी यादव को पर्चा नामज़दगी के इदख़ाल के वक़्त तीन बच्चे थे और वो इंतिख़ाबी क़वानीन के मुताबिक़ इंतिख़ाब नहीं लड़ सकते । ट्रब्यूनल ने इदए कुमार को मुंतख़ब क़रार दिया था जो नताइज के ऐलान के वक़्त दूसरे नंबर पर थे ।

TOPPOPULARRECENT