Wednesday , July 18 2018

मजलिस और बीजेपी की बुनियाद फ़िर्कापरस्ती कवीता

हैदराबाद: सदर तेलंगाना जागृति-ओ-रुकन पार्लियामेंट निज़ामाबाद श्रीमती कवीता ने मज़हब इस्लाम को अमन की तालीम आम करने वाला मज़हब और मुसलमान क़ौम को अमन की हिमायत करने वाली क़ौम क़रार दिया। तेलंगाना यूनीयन आफ़ वर्किंग जर्नलिस्ट के ज़ेर-ए‍-एहतेमाम न्यू प्रेस क्लब सोमाजी गुडा में मुनाक़िदा सहाफ़त से मुलाक़ात के दौरान हैदराबाद में आईएसआईएस की बढ़ती सरगर्मीयों के मुताल्लिक़ पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए कवीता ने कहा कि ना सिर्फ हैदराबाद बल्कि दुनिया का कोई भी सच्चा मुसलमान आईएसआईएस जैसे देह‌शतगर्द तंज़ीम की हिमायत नहीं कर सकता क्योंकि अमन ओ रभाई चारा इस्लाम की बुनियादी तालीम का हिस्सा है और एक सच्चा मुसलमान तशद्दुद की कभी हिमायत नहीं करसकता।

कवीता ने कहा कि मजलिस और बीजेपी फ़िर्कापरस्ती की बुनियाद पर सियासत की आदी हैं उन्होंने कहा कि तेलंगाना राष्ट्रीय समीती इस किस्म की सियासत की हमेशा मुख़ालिफ़त करती रही और आगे भी हमारा बुनियादी मक़सद आपसी भाई चारा और फ़िर्क़ावारना हम-आहंगी को फ़रोग़ देना है।

कवीता ने जीएचएमसी इलेक्शन के दौरान मज़हबी मुनाफ़िरत फैलाकर वोट हासिल करने की तमाम कोशिशों को काबिल-ए-मज़म्मत क़रार देते हुए कहा कि अपोज़िशन जमातों के पास तरक़्क़ीयाती मन्सूबों का फ़ुक़दान है और यही वजहा से वो मज़हबी मुनाफ़िरत फैलाने और वोट हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं जबकि ग्रेटर हैदराबाद की अवाम उनके नापाक अज़ाइम से वाक़िफ़ हो चुकी है।

कवीता ने शिकस्त के ख़ौफ़ से चीफ़ मिनिस्टर के चंद्रशेखर राव‌ के माज़ी के बयानात को तोड़-मरोड़ कर पेश करने का भी कांग्रेस तेलुगुदेशम बीजेपी पर इल्ज़ाम आइद किया। उन्होंने कहा कि तेलंगाना राष्ट्रीय समीती का तरक़्क़ी के मुताल्लिक़ जामा मन्सूबा है जिस पर चीफ़ मिनिस्टर संजीदगी के साथ काम कर रहे हैं। उन्होंने अवाम से तेलंगाना राष्ट्रीय समीती के हक़ में अपने वोट के इस्तेमाल की अपील की|

TOPPOPULARRECENT