Monday , December 11 2017

मजहब के नाम पर हिंसा करना जायज नहीं

नई दिल्ली: जहाँ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सउदी अरब की यात्रा पर गए हुए हैं, वहीँ मक्का मस्जिद के एक इमाम ने  आतंकवादियों की निंदा करते हुए कहा है कि इस्लाम के नाम पर हिंसा फैलाने वाले तत्वों का कोई धर्म नहीं होता ऐसे लोग इस्लाम  को बदनाम करना चाहते है। शेख सलेह मोहम्मद इब्राहिम अल तालिब ने कहा हम इस्लाम का नाम आतंकवाद से जोड़े जाने से नफरत करते हैं। आतंकवादी दुनिया में मजहब के नाम पर की जा रही हिंसा को जायज ठहराते हैं जो जो कि सरासर गलत है।

मजहब कभी भी और किसी को भी, किसी के खिलाफ हिंसा का उपदेश नहीं देता है। उन्होंने कहा कि इस्लाम शांति और अन्य मजहबों के लिए सम्मान का संदेश देता है लेकिन आतंकवादी तो अपने अनुयाइयों तक को नहीं बख्शते। वे मस्जिदों में हमले करते हैं जहां लोग नमाज पढ़ रहे होते हैं। इमाम ने कहा कि सउदी अरब आतंकी और  आतंकी गतिविधियों के बारे में दूसरे देशों को हमेशा सूचना देता है। जिससे कई हमलों की साजिश विफल कर दी गई या हमलों को शुरू में ही नाकाम कर दिया गया।

TOPPOPULARRECENT