स्कूली किताब में मजहब को लेकर सवाल से हुआ विवाद, पुलिस की दखल

स्कूली किताब में मजहब को लेकर सवाल से हुआ विवाद, पुलिस की दखल
Click for full image

कोच्चि : कोच्चि के एक स्कूल में मजहब के आधाप पर जो सवाल-जवाब किए गए हैं, उन्हें लेकर विवाद खड़ा हो गया है। मामला इतना बढ़ गया है कि अब पुलिस को भी इसमें हस्तक्षेप करना पड़ रहा है। पीस इंटरनेशनल स्कूल में कक्षा दो की किताबों में मजहब को वैकल्पिक सवाल-जवाब का आधार बनाया गया है। किताब में लिखा गया है कि यदि आपका बेस्ट फ्रेंड ऐडम सुजान ने मुस्लिम बनने का फैसला किया, तो निम्न विक्लपों में से आप क्या चुनेंगे?’

इनके विकल्प में दिया गया है- उसे तुरंत अपना नाम बदलकर अहमद सारा करना होगा। जो क्रॉस चेन वह पहने है, उसे तुरंत उतारना होगा। घर से भाग जाना होगा, क्योंकि मां-पिता तो मुस्लिम नहीं हैं। हलाल चिकन खाना होगा।

इन विकल्पों को छात्रों को सही क्रम में लगाने व पूरी कक्षा को ऐसा करने के पीछे अपनी राय देने को कहा गया है। पीस एजुकेशनल फाउंडेशन के मैनेजिंग डायरेक्टर एमएम अकबर कहते हैं कि किताब गलती से आ गई है। उन्होंने बताया कि इस्लामिक स्टडी की किताबों की आपूर्ती मुंबई के बुरूज रिअलाइजेशन द्वारा की जाती हैं। अकैडमिक काउंसिल ने विवादित हिस्से को नजरंदाज करने को कहा था। अकबर ने बताया कि इस बार भी गलती से वही किताबें सप्लाई करवा दी गई हैं।

मगर, सभी शिक्षकों को किताबों का विवादित हिस्सा नहीं पढ़ाने का निर्देश दिया गया है। यह स्कूल केरल के तीन बिजनस घरानों द्वारा संचालित होता है। आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट में शामिल होने गए 21 युवकों के मामले में भी यह स्कूल जांच के घेरे में है।

Top Stories