Wednesday , January 17 2018

मणिपुर में बीजेपी के पास बहुमत था इसलिए किया आमंत्रित

इम्फाल। मणिपुर में सिर्फ 21 विधायक होने के बाद भी भाजपा को सरकार बनाने के लिए बुलाने पर उपजे विवाद के बीच मणिपुर की राज्यपाल नजमा हेपतुल्ला ने मंगलवार को सफाई दी। उन्होंने कहा कि भाजपा के पास राज्य में सरकार गठन के लिए आवश्यक सदस्यों की संख्या है, इसलिए उन्हें सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया गया।

हेपतुल्ला ने मंगलवार को राजभवन में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, 60 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा को 30 से अधिक विधायकों का समर्थन हासिल है। हेपतुल्ला ने कहा कि उन्होंने भाजपा को बुधवार को सरकार गठन के लिए आमंत्रित किया है।

राजभवन के सूत्रों ने कहा कि राज्यपाल ने नोंगथोमबाम बिरेन सिंह को सरकार गठन के लिए आमंत्रित किया है। बुधवार को अपराह्न 1.0 बजे शपथ ग्रहण समारोह आयोजि होगा, न कि सुबह 10.30 बजे, जैसा कि पहले कहा गया था।

उन्होंने कहा कि मणिपुर में हमें विकास और युवाओं को रोजगार की जरूरत है। राज्य में राजनीतिक स्थिरता और विकास मुख्य चिंताएं हैं। मुझ पर कोई पक्षपात का आरोप नहीं लगा सकता। मुझे भी नियम पता हैं और मैंने उन्हीं का पालन किया है। मेरे 17 वर्षो का अनुभव मेरे काम आया।

कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक एस. बीरा को विधानसभा के अस्थायी अध्यक्ष के रूप में शपथ दिलाई गई है। हेपतुल्ला ने कहा कि नए मुख्यमंत्री को 22 से 23 मार्च के बीच बहुमत साबित करने के लिए कहा गया है।

TOPPOPULARRECENT