Wednesday , December 13 2017

मताफ़ के पुल की 9 फ़रवरी से एक माह में अलहिदगी

मक्का मोअज़्मा 30 दिसंबर: मताफ़ पर जो आरिज़ी पुल तामीर किए गए हैं ताकि कबतुल्लाह शरीफ के अतराफ़ तवाफ़ किया जा सके। 9 फरवरी ता 9 मार्च के अरसा में अलहिदा कर दिए जाऐंगे।

ये मन्सूबा हुकूमत की मुक़र्रर करदा कमेटी की तरफ से पेश करदा रिपोर्ट में शामिल किया गया है। एक मुक़ामी रोज़नामा की ख़बर के मुताबिक डायरेक्टर उम उलक़रा-ए-यूनीवर्सिटी बकरी असास कमेटी के सदर नशीन हैं जिसका 22 वां इजलास हाल ही में मुनाक़िद हुआ जिसने इस प्रोजेक्ट के मुख़्तलिफ़ पहलूओं पर ग़ौर किया गया।

उन्होंने हर एक पर-ज़ोर दिया कि वो इस प्रोजेक्ट की तकमील को यक़ीनी बनाने सख़्त मेहनत करें।इस से आज़मीने हज्ज की ख़िदमात बेहतर होंगी। उन्होंने कहा कि ये काम फ़िलहाल कबतुल्लाह और मक्का मोअज़्मा के दुसरे मुक़ामात पर जारी है और सऊदी अरब की तारीख़ का अब तक का सबसे बड़ा काम है।

इस काम में 14000 से ज़्यादा इंजीनियरस, टेक्नीशियनस और कारकुन मताफ़ की क़ाबिलीयत में इज़ाफ़ा करने के लिए मसरूफ़ हैं। इस मन्सूबे की तकमील के बाद एक लाख पाँच हज़ार आज़मीने हज्ज फ़ी घंटा तवाफ़ कर सकेंगे।

इस प्रोजेक्ट में मर्कज़ी एयर कंडीशनिंग, बर्क़ी रोशनी का इंतिज़ाम, सूती निज़ामों का एहतिमाम, घड़ियालों और जासूस कैमरों की तंसीब भी शामिल हैं। आज़मीने हज्ज तवाफ़ कर सकेंगे। ये तवाफ़ पहली मंज़िल और छत पर भी होगा। तमाम बालाई मंज़िलें लिफ्ट्स के ज़रीये मरबूत होंगी।

TOPPOPULARRECENT