मथुरा में गोवंश के अवशेष मिलने से तनाव, भारी संख्या में पुलिस तैनात

मथुरा में गोवंश के अवशेष मिलने से तनाव, भारी संख्या में पुलिस तैनात

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में कथित तौर पर गोवंशी जानवरों के अवशेष मिलने को लेकर भड़की हिंसा की घटना के बाद रविवार की रात मथुरा के कोसीकलां क्षेत्र में भी इसी प्रकार के कथित अवशेष मिलने के बाद दो गांवों के लोगों के बीच तनाव हो गया. हालांकि, जिला प्रशासन ने रात में भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर स्थिति को बिगड़ने से पहले ही काबू में कर लिया.

 

जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र के अनुसार इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है और बीते 24 घंटों में मिली जानकारी के अनुसार गिरफ्तारी के प्रयास लगातार जारी हैं. इस मामले में पुलिस सभी संदिग्धों के यहां दबिश दे रही है.

 

इस संबंध में पुलिस उपाधीक्षक (छाता) जगदीश कालीरमन ने बताया, ‘घटना की जानकारी मिलते ही वरिष्ठ अधिकारियों के आदेश पर आसपास कई थानों से पुलिसबल मौके पर भेजकर स्थिति को बिगड़ने से पहले ही काबू में कर लिया गया और पशु अवशेषों को जांच के लिए पशु चिकित्सा विवि स्थित राजकीय प्रयोगशाला में टेस्ट के लिए भेज दिया गया.’

 

दूसरी ओर, मथुरा के जनकपुरी के रहने वाले एक व्यक्ति ने नौहझील थाने में मुकदमा दर्ज कराया है कि वह अपने साथियों के साथ कार से बीती रात शेरगढ़ होते हुए मथुरा आ रहा था, तो उसने एक वाहन में गायें लदी हुई देखी.

 

व्यक्ति ने दर्ज कराए गए मुकदमे में कहा है कि उसने गो तस्कर होने के शक में उस वाहन को रुकवाने की कोशिश की तो वह तेज गति से कार में टक्कर मारकर भागने के दौरान कुछ दूर आगे जाकर पलट गया. उसमें सवार कुछ लोग तो भाग गए, लेकिन एक व्यक्ति उनके हाथ आ गया, जिसे पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया. उसकी पहचान बुलंदशहर के अरनिया क्षेत्र के शाहिद के तौर पर की गई है.

 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार ने बताया, ‘‘दिन निकलने पर उस गाड़ी के पास एक युवक का शव पड़ा मिला. जिसे बीती रात पकड़े गए युवक शाहिद ने अपने मामा के लड़के मुन्ना के रूप में पहचाना है. इस मामले में भी मामला दर्ज कर जांच की जा रही है. शाहिद ने कुछ और लोगों के नाम बताए हैं जिनका पता लगाया जा रहा है.’’

 

बहरहाल, पुलिस सभी पहलुओं से जांच कर रही है.

Top Stories