Thursday , November 23 2017
Home / Bihar/Jharkhand / मदरसा टीचरों व मौलाना को तनख्वाह मिलना तय

मदरसा टीचरों व मौलाना को तनख्वाह मिलना तय

सीतामढ़ी : पंचायत इलेक्शन में भाकपा (माओवादी) अपने हामियों को भी मुख्तलिफ ओहदे पर उम्मीदवार बना कर उतार सकती है. एसपी ने जिले के पुलिस अफसरों को ख़त भेज कर यह इमकान ज़ाहिर करते हुए अलर्ट बरतने का हिदायत दिया है. एसपी ने पुलिस अफसरों को ख़त लिख कर यह बताया है कि पंचायत इलेक्शन -2016 को लेकर भाकपा (माओवादी) तंजीम के उग्रवादियों का दल अपने असर इलाके में सरगर्म हो गये है. कहा है कि, उग्रवादियों की तरफ पंचायत में अपनी पकड़ बनाने के लिए अपने हिमायतों को पंचायत इलेक्शन के दौरान मुख्तलिफ ओहदे पर उम्मीदवार बना कर उन्हें विजयी बनाने की कोशिश किये जाने की मंसूबा बनाये जाने की बात रौशनी में आयी है. उग्रवादियों की तरफ से पंचायत इलेक्शन के दौरान या उसके पहले अपने असर में हिंसक वारदात को अंजाम देकर आम अवाम में पैदा किये जाने की इमकान है.

साथ ही साथ उग्रवादियों की तरफ से पंचायत काम में लगे ओह्देआरों, कर्मियों, वोटिंग सेंटरों, में प्रतिनियुक्त पुलिस फ़ोर्स, गश्ती पुलिस फ़ोर्स, पुलिस फ़ोर्स के टेम्पोरोरी कैंपों (स्कूलों, पंचायत इमारतों वैगेरह) और वोटिंग के बाद वोटिंग मत पेटी लेकर वापस लौट रहे वोटिंग कमियों, पुलिस फ़ोर्स वगैरह पर हमला किये जाने की इमकान से भी इनकार नही किया सकता है. एसपी ने यह जानकारी देते हुए पुलिस अफसरों को कहा है कि उन तथ्यों को देखते हुए इलेक्शन के पहले और इलेक्शन के दिन तक काफी चौकसी व अलर्ट बरतने की जरुरत है. अफसरों को अपने अधीनस्थ कर्मियों को अलर्ट करने की हिदायत दिया गया है. ताकि परिस्थिति पैदा होने पर उससे निपटा जा सके.

TOPPOPULARRECENT